विरासत

भगत सिंह के समय ट्रेड डिस्प्यूट एक्ट और आज लेबर कोड: बहरे कानों तक आवाज़ कैसे बुलंद हो?

शाहीदे आज़म भगत सिंह के जन्म दिवस (28 सितंबर) पर: क्या था ट्रेड डिस्प्यूट एक्ट जिसके खिलाफ भगत सिंह और...

उत्तराखंड का तिलाड़ी नरसंहार : जब राजशाही की गोलियों से 200 लोग शहीद हुए थे!

30 मई, 1930; उत्तराखंड के बड़कोट में स्थित तिलाड़ी के मैदान में अपने हक हुकुओं के लिए सभा कर रहे...

मंटो के जन्म दिवस पर उनकी एक मार्मिक और जीवंत कहानी “आखि़री सल्यूट”

सआदत हसन मंटो की यह कहानी आज़ादी के बाद कश्मीर के लिए दोनों मुल्कों में होने वाली पहली जंग की...

मई दिवस अन्तेष्टि : जब मज़दूरों का हुजूम उमड़ पड़ा; सुनाई पड़ती थीं सिर्फ सांसें और क़दमों की आहट

मई दिवस के शहीदों की ऐतिहासिक अन्तेष्टि की यह कहानी मई दिवस पर केन्द्रित हावर्ड फास्ट के मशहूर उपन्यास ‘दि...

शाहीदे आजम भगतसिंह का महत्वपूर्ण दस्तावेज : क्रान्तिकारी कार्यक्रम का मसविदा

महज 23 साल में शहीद हुए भगत सिंह मेहनतकश की मुक्ति संग्राम के अहम सेनापति थे। यह दस्तावेज उनकी सोच...

मसूरी गोलीकांड, 2 सितम्बर : उत्तराखंड आन्दोलन के इतिहास की एक और हत्यारी तारीख

उत्तराखंड राज्य खटीमा, मसूरी, मुज़फ्फरनगर की हृदय विदारक घटनाओं और शहादतों की बदौलत बना है। 2 सितंबर 1994 के मसूरी...

अगस्त क्रांति : आज़ादी की वह ज़ंग, जो गुलामी के नए दौर का भी परचम है!

अगस्त क्रांति मुल्क की मेहनतकश आवाम के लिए अहम प्रेरणा का स्रोत है। यह गुलामी के बंधनों को तोड़ने की...

मूलभूत सुविधाओं की कमी के कारण ढहती सरकारी स्कूल व्यवस्था: रिपोर्ट

यूनिफाइड डिस्ट्रिक्ट इंफॉर्मेशन सिस्टम फॉर एजुकेशन प्लस रिपोर्ट 2019-20 के अनुसार भारत में दो लाख से अधिक स्कूलों में पुस्तकालय...

भूली-बिसरी ख़बरे