Month: September 2021

चार दशक से छिनते श्रम क़ानूनी अधिकार : मजदूरों को बंधुआ बनाने के लिए आया लेबर कोड

80 के दशक में श्रम क़ानूनी अधिकारों के छिनने की चरम परिणिती के रूप में 4 मज़दूर विरोधी श्रम संहिताएं...

बहराइच : फैक्ट्री में क्रेन टूटने से दो मजदूरों की दर्दनाक मौत, आक्रोशित लोगों ने किया प्रदर्शन

बसाही गांव में स्थित सुदेश इंडस्ट्रीज में क्रेन टूटने से 5 घायल, एक और मजदूर की मृत्यु होने से मृतक...

योगी सरकार की निरंकुशता : घोसी में किसान नेताओं की गिरफ़्तारी घोर निंदनीय, रिहाई की माँग

भारत बंद के दौरान चार किसान नेताओं की असंवधानिक गिरफ़्तारी, किसान नेताओं के घर में दबिश योगी सरकार के दमन...

अभिनव अभियान : इंसानी बिरादरी का ग्रामीण सद्भाव यात्रा – देश हमारा, धरती अपनी

यात्रा टोली गाँव की गरीब उत्पीड़ित, मेहनतकश व बच्चों से संवाद बना रही है, इंसानियत जग रही है, गुरुसंगत कर...

हड़ताल : निजीकरण के खिलाफ ग्रामीण बैंकों में कामकाज रहा ठप

मोदी सरकार क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों का निजीकरण करना चाहती है। वह अपनी पूंजी प्रायोजक बैंकों को ट्रांसफर करने का षड्यंत्र...

मोदी सरकार अब सरकारी कंपनियों की 35 सौ एकड़ जमीन बेचने की तैयरी में

सरकार केंद्रीय सार्वजनिक उपक्रमों की जमीनें व नॉन-कोर संपत्तियां बेचने की प्रक्रिया में तेजी लाने के उद्देश्य से विशेष कंपनी...

कैसे घुसी विदेशी पूँजी, कैसे हुई मेहनतकशों पर चौतरफा हमलों के नए दौर की शुरुआत?

80 के दशक में विदेशी पूँजी के लिए भारतीय बाजार को खोलने, सार्वजनिक उपक्रमों के बेचने की शुरुआत हुई तो...

करनाल : पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट के बाद लगी आग, बुरी तरह झुलसा श्रमिक

सचदेवा फायर वर्क्स की घटना, विस्फोट इतना जोरदार था कि पैकिंग यूनिट की छत पूरी तरह ध्वस्त हो गई। मिक्सिंग...