रतलाम के डीपी वायर्स फैक्ट्री में करंट फैलने से श्रमिक की मौत; मज़दूरों में आक्रोश

रतलाम (मध्यप्रदेश)। डीपी वायर्स फैक्ट्री में करेंट लगने से एक श्रमिक की मौत हो गई। इस घटना पर मजदूरों में आक्रोश फैल गया है। मजदूरों ने फैक्टरी प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

घटना गुरुवार सुबह साढ़े 6 बजे की है जहां 22 वर्षीय नितिन सरोज मशीन पर काम कर रहा था। इस दौरान जमीन पर भरे बारिश के पानी में करंट फैलने से नितिन करंट की चपेट में आ गया।

घटना के बाद आसपास कार्यरत मज़दूरों की मदद से तत्काल उसे मेडिकल अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

बताया जा रहा है कि मृतक नितिन का 6 माह का एक बेटा है और वह उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर से कुछ वर्ष पूर्व रोजगार के लिए अपने घर से परिवार सहित रतलाम आया था। नितिन का परिवार रतलाम के शिव नगर क्षेत्र में रहकर यहां काम करता था।

बताया जा रहा है कि सुबह साढ़े सात बजे नितिन सरोज की छुट्टी होने वाली थी लेकिन उसके पहले वह मशीन के पास काम करने गया जहां करंट लगने से उसकी मौत हो गई है। इस घटना के बाद मृतक नितिन के पूरे परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है।

मजदूरों में फैला आक्रोश

इस घटना को लेकर फैक्ट्री के मजदूरों में आक्रोश फैल गया है। मजदूरों ने फैक्टरी प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाया है।

ईटीवी भारत की रिपोर्ट के अनुसार कुछ श्रमिकों ने नाम उजागर नहीं करने के शर्त पर बताया कि फैक्ट्री में सुरक्षा नियमों का जरा भी ख्याल नहीं रखा जाता है। सभी मजदूर इसी तरह से खतरों के बीच काम करने को मजबूर हैं। वहीं, फैक्ट्री प्रबंधन की ओर से अभी तक कोई भी बयान नहीं आया है। औद्योगिक थाना की पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

भूली-बिसरी ख़बरे