आंध्र प्रदेश: दवा फैक्ट्री में विस्फोट में 3 मज़दूरों की; मिजोरम: खदान में 11 मज़दूरों की मौत

दो हादसे: दवा फैक्ट्री में विस्फोट इतना तेज था कि कांच के टुकड़े और टीन की चादरें मज़दूरों के शरीर में जा घुसी। मिजोरम के हनथियाल जिले में पत्थर खदान ढहने से 12 मजदूर दब गए थे।

हादसा-1

दवा फैक्ट्री में विस्फोट भयावह; शरीर के अंदर घुसे कांच के टुकड़े

आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले के गौरीपट्टनम स्थित दवा बनाने वाली फैक्ट्री विजन ड्रग्स प्राइवेट लिमिटेड में विस्फोट हो गया। इस हादसे में तीन मज़दूरों की दर्दनाक मौत हुई है। विस्फोट का कारण प्रबंधन की चूक को बताया जा रहा है। मामले की आगे की जांच जारी है।

विस्फोट इतना तेज था कि कांच के टुकड़े और टीन की चादरें तीनों के शरीर के अंदर जा घुसी। तीनों को कोवुरु के अस्पताल में ले जाया गया, जहां उनकी मौत हो गई।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि हादसा 16 नवंबर को गौरीपट्टनम स्थित इस दवा फैक्ट्री में तब हुआ जब कर्मचारी तकनीकी समस्या का समाधान कर रहे थे। जांच से जुड़े एक पुलिस अधिकारी ने कहा, “पाइपलाइन में एक तकनीकी समस्या थी जहां पानी और रसायनों का पुनर्नवीनीकरण किया जाता है। डिप्टी मैनेजर, शिफ्ट इंचार्ज और केमिस्ट काम पर थे, जब उच्च तापमान के कारण दबाव की वजह से पाइपलाइन में विस्फोट हो गया”।

इस बीच गृह मंत्री ने अस्पताल का दौरा कर अधिकारियों से हादसे के बारे में जानकारी ली है। जिला प्रशासन ने मृतक के परिजनों को 20-20 लाख रुपये देने की घोषणा की है।

हादसा-2

मिजोरम का खदान ढहने से 11 मजदूरों की मौत

मिजोरम। 14 नवंबर को मिजोरम के हनथियाल जिले में पत्थर का खदान ढहने से 12 मजदूर दब गए थे। असम राइफल्स और सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) स्थानीय पुलिस, राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की टीम ने रेस्कयू ऑपरेशन शुरू किया था।

सर्च ऑपरेशन के दौरान 11 मजदूरों के शव बरामद किए गए थे। बचाव अभियान अभी भी जारी है। एनआईए के मुताबिक हनथियाल के अतिरिक्त उपायुक्त सैजिकपुई ने मंगलवार रात को जानकारी दी की सर्च ऑपरेशन के बाद मलबे से तीन और शव बरामद किए गए हैं।

%d bloggers like this: