गुड़गांव: इलाकाई यूनियनें पहुंची संघर्षरत नपीनों मज़दूरों के बीच; 3 अगस्त को सामूहिक रैली

टीयूसी के नेतृत्व में इलाके की यूनियनों व संगठनों ने नापिनों मज़दूरों के संघर्ष को मजबूती प्रदान की और 3 अगस्त को जुलूस निकालकर डी सी गुड़गांव को ज्ञापन देने का निर्णय लिया।

मानेसर, गुड़गांव। नपिनो ऑटो में आज हड़ताल चलते 16 दिन हो चुके हैं। आज 29 जुलाई को ट्रेड यूनियन काउंसिल के आह्वान पर इलाके की विभिन्न यूनियनें और मज़दूर संगठन नापिनों गेट पर पहुंचें। संघर्ष का सक्रिय समर्थन किया, आर्थिक सहयोग दिया और 3 अगस्त को राजीव चौक से डीसी ऑफिस गुड़गांव तक जुलूस निकालकर उपयुक्त को ज्ञापन देने का कार्यक्रम ते किया।

ज्ञात हो कि मानेसर स्थित नपिनो ऑटो एण्ड इलैक्ट्रॉनिक लिमिटेड यूनियन के स्थाई मज़दूर 14 जुलाई से लगातार हड़ताल पर हैं। प्लांट के अन्दर और बाहर मज़दूर धरना डाल कर बैठे हैं। पुरुषों के साथ-साथ महिला मजदूर भी कंधे से कंधा मिलाकर संघर्ष संघर्ष में डटी हुई हैं।

दरअसल कंपनी में मज़दूरों की सामूहिक मांग पत्र 4 साल से मैनेजमेंट के पास बिना कार्यवाही के पड़ा हुआ है। 4 वर्षों से श्रम अधिकारी भी वार्ताओं की महज खानापूर्ति कर रहे हैं। इधर समझौता वार्ता की प्रक्रिया में प्रबंधन ने 6 मज़दूरों को निलंबित कर दिया है।

प्लांट में 270 स्थायी मज़दूर हैं और इससे दुगनी संख्या में (500 से ज्यादा) अस्थायी मज़दूर हैं। गुडगाँव-मानेसर में कम्पनी के कुल तीन प्लांट हैं जिनमें से मात्र इस प्लांट में स्थायी मज़दूर हैं। अन्य दोनों प्लांट के सभी मज़दूर अस्थायी हैं और वहां कोई यूनियन भी नहीं है।

नपीनों गेट पर यूनियनों ने दिया समर्थन

गुडगाँव-मानेसर की ट्रेड यूनियन काउंसिल के आह्वान पर आज 29 जुलाई को इलाके की तमाम यूनियनें और मज़दूर संगठन नापिनों गेट पर पहुंचे और आम सभा की। साथ ही नपिनों के संघर्ष का समर्थन किया, कुछ यूनियनों ने आर्थिक सहयोग भी किया।

इस दौरान आंदोलन को मजबूती देने के आह्वान के साथ सामूहिक निर्णय लिया की 3 अगस्त को शाम 3 बजे सभी यूनियनें व मज़दूर राजीव चौक से डीसी ऑफिस गुड़गांव तक जुलूस निकालेंगे और डी सी को ज्ञापन देंगे।

इस दौरान एटक से अनिल पवार, एचएमएस से जसपाल राणा, मज़दूर सहयोग केंद्र से ख़ुशीराम, होंडा मानेसर से अशोक यादव, बेल्सोनिका से अजीत, सीटू, मुंजाल शोवा, सनबीम, सोना स्टीयरिंग, कपारो मारुति, हाईलेक्स और अन्य कंपनियों की यूनियनें और मज़दूर संगठनों के नेता शामिल रहे।

टीयूसी ने दिया था सामूहिक ज्ञापन

इससे पूर्व कल गुरुवार को विभिन्न औद्योगिक मज़दूर यूनियन के प्रतिनिधियों ने ट्रेड यूनियन काउन्सिल (टीयूसी) के साथ मिल कर मांगों का एक सामूहिक ज्ञापन हरियाणा के मुख्यमन्त्री के नाम उपायुक्त की अनुपस्थिति में गुरुग्राम के तहसीलदार को दिया था।

हरियाणा के मुख्यमन्त्री के नाम सौंपे ज्ञापन में नापीनो ऑटो मानेसर में चल रहे औद्योगिक विवाद का हल निकालने तथा विभिन्न कम्पनियों में चल रहे विवादों के समाधान के लिए गुहार लगाई गयी।

प्रबंधन हड़ताल तोड़ने की कर रहा है साजिश

प्रबन्धन मजदूरों की हड़ताल तोड़ने के लिए तरह तरह के षड्यंत्र कर रहा है। शौचालय बन्द कर व पानी की सप्लाई रोकर मजदूरों को प्रताड़ित कर रहा है। लेकिन मजदूर तमाम परेशानियों, षडयंत्रो का सामना करते हुए आंदोलन में मजबूती से खड़े हैं और हड़ताल जारी रखे हुए हैं।

भूली-बिसरी ख़बरे

%d bloggers like this: