मेरठ : अवैध पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट, एक महिला के दर्दनाक मौत, 8 गंभीर

घर के अंदर अवैध रूप से पटाखा फैक्ट्री संचालित हो रही थी। सोमवार को बारूद में विस्फोट होने की वजह से यह हादसा हुआ। विस्फोट से पूरा इलाका दहल गया।

मेरठ: मेरठ के एक घर में हुए ब्लास्ट मामले में बड़ा खुलासा हुआ है. पुलिस के मुताबिक, घर के अंदर सिलेंडर फटने से नहीं, बल्कि बारूद में विस्फोट होने से हादसा हुआ है. घर में अवैध रूप से पटाखा फैक्ट्री संचालित की जा रही थी. फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले में मुकदमा दर्ज कर जांच में जुट गई है.

मामला के मेरठ के थाना लिसाड़ी गेट क्षेत्र के 60 फुटा रोड का था. यहां एक घर में शाम को जबरदस्त धमाका हुआ. धमाका इतना तेज था कि मकान के परखच्चे उड़ गए. धमाके ने आस-पास के दो मकानों को अपनी जद में ले लिया. इस हादसे में एक महिला की मौत हो गई जबकि आठ लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. सभी घायलों का इलाज चल रहा है. एनडीआरएफ और जन सहयोग से मौके पर रेस्क्यू ऑपरेशन हुआ. पहले यह समझा जा रहा था कि घर के अंदर सिलेंडर फटने से हादसा हुआ है. वहीं, अब पुलिस ने बताया कि घर के अंदर अवैध रूप से पटाखा फैक्ट्री संचालित की जा रही थी. सोमवार को बारूद में विस्फोट होने की वजह से यह हादसा हुआ.

मेरठ पुलिस ने इस मामले में विस्फोटक अधिनियम एक्ट के तहत मुस्तकीम नाम के आरोपी पर मुकदमा दर्ज कर लिया है. आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार उसके ठिकानों पर दबिश दे रही है. माना जा रहा है कि पटाखा बनाने के लिए मुस्तकीम ही बारूद सप्लाई किया करता था. वह पहले भी अवैध पटाखा फैक्ट्री संचालन में जेल जा चुका है. हालांकि, जिस तरह से बीते काफी समय से रिहायशी एरिया के अंदर यह अवैध पटाखा फैक्ट्री चलाई जा रही थी वह निश्चित तौर पर पुलिस की कार्यशैली पर बड़ा सवाल खड़ा करता है. फिलहाल पुलिस आरोपी मुस्तकीम की तलाश में जुटी हुई है.

भूली-बिसरी ख़बरे

%d bloggers like this: