नोएडा में गत्ता फैक्ट्री में भीषण आग, हादसे के समय अंदर फंसे थे 40 मजदूर

हादसा जे एस एच पैकेजिंग मैटेरियल (कोरोगेटेड बॉक्स) बनाने की फैक्ट्री में लगी है। गत्ते के बड़े-बड़े रोल में लगी आग पर काबू पाने में दमकल के कर्मचारियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी।

Noida Factory Fire: दिल्ली से सटे यूपी के नोएडा की कोतवाली फेज 1 क्षेत्र में स्थित सेक्टर 8 में एक गत्ते बनाने की फैक्ट्री में देर रात भीषण आग लग गई। फैक्ट्री में उस समय मजदूर काम कर रहे थे। आग लगते ही अफरा-तफरी मच गई। सूचना मिलते ही पुलिस और फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने मौके पर पहुंचकर फैक्ट्री में काम कर रहे हैं 40 मजदूरों को सुरक्षित बाहर निकाला। 10 गाड़ियों की मदद से कई घंटों तक मशक्कत करने के बाद आग पर काबू पाया गया। हालांकि, गोदाम में रखा लाखों का सामान जलकर खाक हो गया। राहत की बात यह थी कि, इस हादसे में कोई व्यक्ति हताहत नहीं हुआ है। फायर ब्रिगेड के अधिकारी आग लगने के कारणों की जांच और नुकसान का आकलन करने में जुटे हैं।

मिली जानकारी के अनुसार, यह हादसा सेक्टर के एफ-108 में स्थित जे एस एच पैकेजिंग मैटेरियल बनाने की फैक्ट्री में लगी है। इस कंपनी में पैकेजिंग के लिए कोरोगेटेड बॉक्स बनाए जाते हैं। ऐसे में गत्ते के बड़े-बड़े रोल में लगी आग पर काबू पाने में दमकल के कर्मचारियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। चीफ फायर ऑफिसर अरुण कुमार सिंह ने बताया कि, आग फैक्ट्री के सेकंड फ्लोर पर लगी और आग ने फर्स्ट फ्लोर के काफी हिस्से को अपनी चपेट में ले लिया था। आग जब लगी उस समय फैक्ट्री में 40 मजदूर काम कर रहे थे, उन्हें पहले सुरक्षित निकाला गया। आग दूसरी फैक्ट्रियों को भी चपेट में ना ले ले, इसलिए तत्परता से कार्रवाई करते हुए बड़े हादसे को टाल दिया गया।

सीएफओ अरुण कुमार का कहना है कि, 10 गाड़ियों की मदद से कई घंटों तक मशक्कत करने के बाद आग पर काबू पाया गया है। राहत की बात है कि, किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। गोदाम में कागज भरा होने की वजह से आग तेजी से फैल गई। आग की जानकारी मिलते ही गोदाम के मालिक और अन्य संबंधित लोग मौके पर पहुंच गए। कागज होने की वजह से आग का दूसरी इमारतों और गोदामों में फैलने की पूरी संभावना थी। मगर दमकल विभाग की तत्परता ने बड़े हादसे को टाल दिया। अधिकारी आग लगने के कारणों की जांच और नुकसान का आकलन करने में जुटे हैं।