फिक्स्ड टर्म में सेनाभर्ती के खिलाफ दमन के बीच विरोध प्रदर्शन तेज, 20 को भारत बंद

मोदी सरकार के भ्रमजाल के बीच आंदोलन देशव्यापी हो गया है। हालांकि संगठित दिशा न होने से युवाओं का गुस्सा तोड़-फोड़ आगजनी का भी रूप ले रहा है, तो पुलिस का दमन भी तेज हो गया है।

मोदी सरकार द्वारा सेना में संविदा के तहत सैनिकों की चार साल के लिये भर्ती हेतु लायी गयी अग्निपथ योजना का प्रतिरोध देशव्यापी हो चुका है। सेना में फिक्स्ड टर्म संविदा भर्ती के खिलाफ युवाओं में आक्रोश बढ़त जा रहा है। बिहार, हरियाणा, राजस्थान, उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश, हिमाचल, पंजाब, जम्मू कश्मीर, झारखंड से लेकर बंगाल, तेलंगाना, तमिलनाडु तक में युवा सड़क पर हैं।

उत्तरप्रदेश में डबल इंजन की सरकार के लाख प्रयास के बावजूद युवक जबर्दस्त गुस्से में हैं। पुलिस की तगड़ी घेराबंदी के बावजूद पूर्वांचल के आंदोलनकारी युवाओं ने रविवार को चंदौली और गाजीपुर में बवाल काटा। अलीगढ़ से नोएडा तक विरोध सड़क पर है। बिहार में शनिवार को राज्यव्यापी बंद रहा।

पश्चिम बंगाल में रेल पटरियाँ अवरुद्ध हुईं। चेन्नई में प्रदर्शन हुआ तो सिकंदराबाद में पुलिस की गोली से एक छात्र की मौत हो गई। गुड़गांव में हाइवे जाम हुआ। देहरादून से लेकर हल्द्वानी, पिथौरागढ़ में प्रदर्शन जारी हैं।

गौरतलब है कि मोदी सरकार ने कोविड के नाम पर पिछले दो सालों से सेना में कोई भर्ती नहीं की है। और अचानक इस फरमान से स्वतःस्फूर्त आंदोलन व्यापक रूप लेने लगा है।

हालांकि आंदोलन की कोई संगठित दिशा न होने के कारण छात्रों-नौजवानों का गुस्सा तोड़-फोड़ आगजनी के रूप में सामने आ रहा है, वहीं पुलिस-प्रशासन द्वारा लाठी चार्ज और गिरफ़्तरियों के साथ उनका भारी दमन किया जा रहा है। कई जगहों से फायरिंग की भी खबरें हैं।

देशव्यापी विरोध की झलकियां-

पंजाब के जालंधर में प्रदर्शन

बिहार

बिहार में छात्र संगठनों द्वारा आहूत राज्यव्यापी बंद के मद्देनजर शनिवार को गया, बक्सर, जहानाबाद सहित राज्य के कुछ अन्य हिस्सों में सड़क परिवहन सेवाएं प्रभावित हुईं और आपात सेवाओं को छोड़कर अधिकांश दुकानें व अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे।

बिहार के कई हिस्सों में लगातार विरोध-प्रदर्शन जारी रहा। शनिवार को प्रदर्शनकारियों ने जहानाबाद जिले में तेहटा पुलिस चौकी परिसर के अंदर खड़े एक ट्रक और एक बस समेत कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया।

इस बीच, बिहार सरकार ने शुक्रवार को राज्यभर में हो रहे प्रदर्शनों की पृष्ठभूमि में 12 जिलों- कैमूर, भोजपुर, औरंगाबाद, रोहतास, बक्सर, नवादा, पश्चिमी चंपारण, समस्तीपुर, लखीसराय, बेगूसराय, वैशाली और सारण जिले में 19 जून तक इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया है। अधिकारियों ने राज्य के कई जिलों में पांच या उससे अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर भी पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया है।

up protest

उत्तर प्रदेश

नई ‘अग्निपथ’ योजना के खिलाफ उत्तर प्रदेश के कई स्थानों पर प्रदर्शनकारियों के उग्र प्रदर्शन जारी हैं। पुलिस की तगड़ी घेराबंदी के बावजूद आंदोलनकारी युवाओं ने रविवार को चंदौली और गाजीपुर में प्रदर्शन किया। चंदौली के अलीनगर इलाके के आलमपुर (मुस्थफापुर) में सिपाहियों ने लाठीचार्ज कर दिया। इससे आक्रोशित युवाओं ने पुलिस की गश्त जीप को पलट दिया और उसमें आग लगा दी। आंदोलनकारी युवाओं के तल्ख तेवर को देखते हुए पुलिस वाले गाड़ी छोड़कर भाग निकले। 

गाजीपुर शहर से सटे बंजारीपुर रेलवे ट्रैक पर प्रदर्शन कर रहे युवाओं को पुलिस ने लाठी भांजकर खदेड़ दिया। कई दर्जन युवाओं को हिरासत में लेते हुए उनके मोबाइल जब्त कर पूछताछ की जा रही है। आंदोलन की आशंका के मद्देनजर रेल व रोडवेज सेवा पूरी तरह से ठप कर दी गई है। 

protest

इससे पूर्व शनिवार को बलिया में प्रदर्शनकारियों ने एक ट्रेन के खाली डिब्बे को आग के हवाले कर दिया और अलीगढ़ में एक पुलिस चौकी फूंक दी। प्रदेश में सैकड़ों लोगों को गिरफ्तार किया गया है। बनारस और बलिया में स्थिति तनावपूर्ण, लेकिन नियंत्रण में है।

विरोध में शनिवार को चंदौली, जौनपुर, मिर्जापुर और गाजीपुर में युवाओं ने उग्र प्रदर्शन किया। जौनपुर और मिर्जापुर में वाहनों पर पथराव और तोड़फोड़ के बीच एक रोडवेज बस को आग के हवाले कर दिया गया। गोरखपुर और बिहार से आने वाली कई ट्रेनों और कई इलाकों में रोडवेज की बसों का संचालन पूरी तरह ठप कर दिया गया है।

बुलंदशहर, मथुरा, प्रयागराज, गोरखपुर में सेना भर्ती के अकांक्षी युवाओं ने प्रदर्शन किया, इसको रद करने की मांग की और ‘अग्निपथ योजना वापस लो’ के नारे लगाए हैं। मथुरा में युवाओं में आक्रोश बढ़ रहा है। सैकड़ों युवाओं ने मथुरा में रैपुराजाट गांव के पास आगरा-दिल्ली हाईवे पर जाम लगाया।

Protest Of Agnipath Scheme in UP: 'अग्निपथ योजना वापस लो'

गोरखपुर में सैकड़ों की संख्या में नौजवान सड़क पर उतर कर विरोध करने लगे। गोरखपुर-खजनी मार्ग को करीब डेढ़ घंटे जाम कर दिया, जिससे वाहनों को लंबी कतार लग गई। इसके अलावा कालेसर जीरो प्वाइंट पर गोरखपुर लखनऊ हाइवे जाम किया।

बरेली में एआरओ सेंटर से चौकी चौराहा तक सैकड़ों अभ्यर्थियों ने प्रदर्शन कर विरोध जताया फिर चौकी चौराहा पर सड़क जाम कर दी। नगर मजिस्ट्रेट को अभ्यार्थियों ने ज्ञापन सौंपा। शाहजहांपुर, पीलीभीत समेत अधिकतर जिलों विरोध हुआ।

अलीगढ़ के गभाना में गुरुवार को अलीगढ़ -गाजियाबाद हाईवे पर सोमना मोड़ के पास युवकों ने हंगामा किया। उन्नाव में युवाओं ने गुरुवार को मरहला चौराहे पर विरोध प्रदर्शन किया।

वाराणसी, बलिया, देवरिया, जौनपुर, चंदौली समेत यूपी के दस जिलों में दर्जनों एफआईआर दर्ज की की जा चुकी हैं। सैकड़ों प्रदर्शनकारी गिरफ्तार किए गए हैं। युवाओं के आंदोलन के मद्देनजर पूर्वांचल के सभी जिलों में धारा 144 लागू कर दी गई है।

गौतमबुद्ध नगर जिले के जेवर क्षेत्र में शुक्रवार को प्रदर्शन के दौरान कथित तौर पर तोड़फोड़ करने के मामले में 75 नामजद और 150 अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। सहारनपुर, भदोही, देवरिया में भी रविवार को गिरफ्तारियाँ हुई।

हरियाणा

हरियाणा के कई शहरों में प्रशासन अलर्ट।

हरियाणा में अग्निपथ की आग बढ़ती जा रही है। युवाओं में आक्रोश है और हर रोज प्रदर्शन बढ़ता जा रहा है। महेंद्रगढ़, सोनीपत, पानीपत, जींद, फतेहाबाद, कैथल, कुरुक्षेत्र, अंबाला, मेवात, पलवल सहित कई शहरों में प्रशासन भी अलर्ट है।

20 जून को फौज में भर्ती होने के इच्छुक युवाओं की ओर से बड़े प्रदर्शन के ऐलान के साथ कुरुक्षेत्र, जींद सहित कई शहरों में प्रशासन ने धारा-144 भी लागू कर दी है। 

हरियाणा के गुरुग्राम में छात्रों ने विरोध में दिल्ली-जयपुर हाईवे जाम कर दिया। पलवल में उग्र प्रदर्शन के बाद हरियाणा सरकार ने फरीदाबाद जिले के बल्लभगढ़ इलाके में मोबाइल इंटरनेट एवं एसएमएस सेवाओं को 24 घंटे के लिए निलंबित कर दिया है।

रेवाड़ी में सैकड़ों की संख्या में युवाओं ने बस स्टैंड के पास पुलिस के बैरिकेड्स तोड़ दिए और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। पुलिस ने लाठीचार्ज करके छात्रों को खदेड़ दिया। तनाव के बीच बस स्टैंड के आसपास के बाजार पूरी तरह बंद हो गया।

शनिवार को युवा जुलाना में इकट्ठा हुए और जींद-रोहतक मार्ग के बीचोंबीच बैठ जाम लगा दिया। शनिवार को रोहतक के पीजी होस्टल में सचिन नामक एक युवक ने फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। 

राजस्थान

राजस्थान में अग्निपथ स्कीम को लेकर विरोध: जयपुर-जोधपुर में कलेक्ट्रेट को घेरा, सीकर में तोड़फोड़; जानें वजह

राजस्थान में भी विरोध जारी है। शनिवार को जयपुर के सांगानेर में बड़ी संख्या में युवाओं ने अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रदर्शन किया।इससे पूर्व सेना भर्ती की तैयारी कर रहे बेरोजगार जयपुर कलेक्ट्रेट सर्किल पर जाम लगाया। वहीं जयपुर जिले के चौमूं कस्बे में मुख्य बस स्टैंड के नगरपालिका मुख्य द्वार के बाहर युवाओं ने विरोध प्रदर्शन किया।

जोधपुर में विरोध की सुगबुगाहट के बीच बड़ी संख्या में युवक एकाएक सड़क पर उतर पड़े, अनुमान पुलिस को भी नहीं था। जुलूस के रूप में सैकड़ों युवक नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे। गई। इस दौरान जिला कलेक्ट्रेट पर पुलिस ने कई युवकों को हिरासत में लिया और थोड़ी देर बाद छोड़ दिया।

अजमेर और सीकर में सैकड़ों युवकों ने विरोध जताया और तोड़फोड़ भी की। इसके बाद दोनों जगह पुलिस ने बल प्रयोग किया। जैसलमेर और झुंझुनूं से भी योजना के विरोध की खबर आ रही है।

युवाओं ने 20 जून को दिल्ली जाकर प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है।

उत्तराखंड

हल्द्वानी में अग्निपथ योजना का विरोध

सेना भर्ती के लिए लागू अग्निपथ योजना का उत्तराखंड के युवाओं ने विरोध तेज हो गया है। गढ़वाल के कोटद्वार से लेकर कुमाऊं के हल्‍द्वानी में युवा सड़कों पर उतर आए। हल्‍द्वानी में तो पुलिस ने लाठीजार्ज किया इससे पहले गुरुवार को राजधानी देहरादून से लेकर सीमांत जिले पिथौरागढ़ तक युवा इसके विरोध में उतर आए। 

हरिद्वार में बीएचईएल के सेक्टर चार चौराहे पर अग्निपथ योजना जोकि बेरोजगारों के साथ में एक भद्दा मजाक है के विरोध में रविवार को केंद्र सरकार का पुतला दहन और एक विरोध सभा की।

देहरादून में सेना भर्ती की तैयारी कर रहे युवाओं ने घंटाघर और लैंसडौन चौक पर प्रदर्शन किया। घंटाघर पर युवाओं ने फौजी अंदाज में डिप्स मारकर अग्निपथ योजना का विरोध किया। 

हल्द्वानी में शुक्रवार को सैकड़ों की संख्या में युवाओं ने नैनीताल नेशनल हाईवे स्थित तिकोनिया चौराहे पर जाम लगा दिया। युवाओं के प्रदर्शन के कारण नेशनल हाईवे पर लगा लंबा जाम लग गया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों पर पुलिस और प्रशासन लठियाँ बरसाईं, गिरफ्तारियाँ कीन और मुक़दमें ठोंके।

कोटद्वार में युवाओं ने राष्ट्रीय राजमार्ग पर भी सांकेतिक जाम लगाया। चमोली में युवाओं ने सड़क पर उतर कर विरोध दर्ज किया। पिथौरागढ़ में चक्काजाम कर रहे युवाओं पर पुलिस ने लाठी चार्ज किया था। इससे गुस्साए युवाओं ने पत्थरबाजी की।

शुक्रवार को भारी संख्या में गैरसैंण क्षेत्र के युवा नगर मुख्यालय स्थित मुख्य चौराहे पर एकत्रित हुए व सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए गैरसैंण तहसील पहुंचे और तहसील परिषर में सरकार के फैंसले के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन व नारेबाजी की। 

बागेश्वर में युवाओं ने कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। चंपावत जिले के टनकपुर में युवाओं ने रैली निकालकर प्रदर्शन किया। इस दौरान उन्होंने कई वाहनों के शीशे भी तोड़ दिए। साथ ही सड़क पर जाम भी लगाया।

ऊधमसिंहनगर में भी युवाओं ने अग्निपथ के विरोध में प्रदर्शन किया। रुद्रपुर, बाजपुर, काशीपुर में प्रदर्शन हुए। खटीमा में सैकड़ों युवाओं ने जुलूस निकालकर जोरदार विरोध किया। खटीमा मुख्य चौक पर सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की गई। युवाओं ने योजना को वापस लेने की मांग की।

हिमाचल

अग्निवीरों की भर्ती के फैसले का विरोध।

हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में चुनाव अभियान के लिए जा रही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में विरोध जताने जा रहे युवाओं को रोका गया। गुरुवार को पीएम के रोड शो से ठीक पहले युवाओं ने कांगड़ा के गगल, शाहुपर, कोटला, हमीरपुर, मंडी और सिरमौर जिला मुख्यालय नाहन में प्रदर्शन किया।

गुरुवार को हिमाचल प्रदेश में जमकर बवाल हुआ। कई जगह युवाओं ने नेशनल हाईवे और अन्य मार्गों पर चक्का जाम किया। गुस्साए युवाओं ने कांगड़ा में पुलिस कर्मियों को ही पीट दिया। कांगड़ा के गगल, कोटला, हमीरपुर और धर्मशाला में 283 लोगों को हिरासत में लिया गया।

मध्यप्रदेश

ग्वालियर पहुंची अग्निपथ के विरोध की आग, छात्रों ने रेलवे स्टेशन पर किया उपद्रव

ग्वालियर के गोला का मंदिर में सेना भर्ती की तैयारी कर रहे छात्रों ने चक्काजाम कर दिया, बीच सड़क पर टायर जलाकर प्रदर्शन किया। मौके पर पुलिस बल तैनात हो गया। इंदौर में भी हंगामा हुआ। इस बीच पुलिस का दमन भी जारी रहा।

पश्चिम बंगाल

News

प्रदर्शनकारियों के ने शनिवार को पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में सियालदह-बैरकपुर मार्ग पर रेल पटरियों को अवरुद्ध कर दिया, जिसके चलते ट्रेन सेवाएं करीब एक घंटे तक बाधित रहीं। जिसके कारण वाहनों की आवाजाही भी प्रभावित हुई। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने पटरियों पर ‘पुश अप’ भी किया।

पश्चिम बंगाल के पश्चिम बर्धमान जिले के औद्योगिक बस्ती दुर्गापुर में युवा और छात्र विंग ने विरोध रैली निकाली। 

तमिलनाडु

चेन्नई में भी युवाओं ने एकत्र होकर अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रदर्शन किया। वॉर मेमोरियल के पास नारेबाजी करने वाले इन प्रदर्शनकारियों को बाद में पुलिस ने हिरासत में लिया।

सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन पर जमा हुए प्रदर्शनकारी

तेलंगाना में प्रदर्शनकारी की मौत

शुक्रवार को हुए विरोध प्रदर्शन के दौरान तेलंगाना के सिकंदराबाद में पुलिस की गोलीबारी में एक व्यक्ति की मौत हो गई। आक्रोशित युवाओं के प्रदर्शन के दौरान कई ट्रेनों में आग लगा दी गई, निजी, सार्वजनिक वाहनों, रेलवे स्टेशन में तोड़फोड़ की गई और राजमार्गों तथा रेलवे लाइन को अवरूद्ध कर दिया गया।

सिकंदराबाद में जान गंवाने वाले युवक की पहचान वारंगल जिले के दबीरपेट गांव के रहने वाले 24 वर्षीय राकेश के रूप में हुई है। जबकि घायलों का इलाज राजकीय गांधी अस्पताल में हो रहा है। अबतक 46 लोगों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है।

Agneepath Protest LIVE Updates

दिल्ली: में एक प्रदर्शनकारी गिरफ्तार

दिल्ली में युवाओं ने जोरदार प्रदर्शन कर आक्रोश जताया। इस बीच पुलिस ने कथित तौर पर भड़काऊ भाषण देने और अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे युवाओं को भड़काने के आरोप में सुरेंद्र शर्मा उर्फ ​​फौजी को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने कुल 18 प्रदर्शनकारियों को मौके पर ही हिरासत में लिया और उन पर कार्रवाई की।

जम्मू-कश्मीर

जम्मू में अग्निपथ योजना का विरोध करते युवा

जम्मू में युवाओं ने रिहाड़ी चुंगी स्थित सेना कार्यालय के बाहर भी प्रदर्शन किया। इसमें 2021 में हुई सेना भर्ती की लिखित परीक्षा करवाने की मांग की। 

झारखंड

Ranchi: Hundreds of youths protest against the new scheme of army recruitment, Agneepath.

गुरुवार को झारखंड के कई जिलों से युवा राजधानी रांची पहुंचे और रेलवे ओवरब्रिज के पास सैंकड़ों की संख्या में युवक सेना भर्ती ऑफिस के सामने नारेबाजी किया, जिससे यातायात पूरी तरह से ठप हो गई और सड़क जाम है। 

भूली-बिसरी ख़बरे

%d bloggers like this: