हरियाणा: चमड़ा फैक्ट्री में जहरीली गैस की चपेट में आने से 3 मजदूरों की मौत, दो गंभीर

हर घटना की तरह पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। मामला शांत होने के बाद जांच ठंडे बस्ते में चली जाएगी। फिर किसी और फैक्ट्री में कुछ और मज़दूर मुनाफे की भेंट चढ़ेंगे…

करनाल (हरियाणा)। एक चमड़े की फैक्ट्री में गहरे गड्‌ढे को साफ करने के दौरान जहरीली गैस की चपेट में आने से तीन मजदूरों की मौत हो गई और दो मज़दूरों का अस्पताल में इलाज चल रहा है। बताया जा रहा है कि एक दूसरे को बचाने के लिए में तीन लोगों की मौत हुई है।

घटना करनाल के कुंजुपरा थाना क्षेत्र स्थित संजय लेदर्स नामक फैक्ट्री का है। हादसा रविवार दोपहर बाद हुई। फैक्ट्री संचालक मौके से फरार हो गया है।

जानकारी के अनुसार फैक्ट्री में गड्ढे की सफाई के लिए मजदूर लगाए गए थे। पुलिस के अनुसार पहले एक मजदूर गड्ढे में गया तो वह बेहोश होकर गिर गया। उसे बचाने के लिए दूसरा मजदूर भी गड्‌ढे में चला गया। इस तरह तीसरा मजदूर भी गड्‌ढे में गया तो वह भी बेहोश होकर गिर गया। इसके बाद अन्य दो मजदूर भी गड्ढे में गए तो उनको भी जहरीली गैस चढ़ने से चक्कर आने लगे।

वहाँ पर मौजूद मज़दूरों ने तुरंत उन सभी को बाहर निकाला। दो एंबुलेंस के जरिए पांचो मजदूरों को अस्पताल ले जाया गया, जहां तीन की मौत हो गई और दो गंभीर हैं, जिनका इलाज चल रहा है। मृतकों की पहचान सतीश, पवन और एक अन्य के रूप में हुई है।

परिजनों के आरोप हैं कि फैक्टरी मालिक ने उनके साथ किसी प्रकार का सहयोग नहीं किया। तीन मजदूरों की मौत होने के बावजूद मालिक यहां पहुंचा भी नहीं है। नागरिक अस्पताल के ट्रामा सेंटर के बाहर पीड़ित परिवार पहुंच गए और वह अपनों को याद करते हुए मातम में डूबे हुए हैं।

असुरक्षित परिस्थितियों में काम से फैक्ट्रियों में लगातार होती घटनाओं में मज़दूरों की जान जाने से लेकर मौत होने तक अमानवीय घटनाओं का सिलसिला जारी है। हर घटना की तरह पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। मामला शांत होने के बाद जांच ठंडे बस्ते में चली जाएगी। फिर किसी और फैक्ट्री में कुछ और मज़दूर मुनाफे की भेंट चढ़ेंगे।

पेट के लिए खतरनाक परिस्थितियों में काम करने को मजबूर मज़दूरों की मौत का सिलसिला जारी है…

भूली-बिसरी ख़बरे

%d bloggers like this: