परफेट्टी मनेसर प्लांट में 4 साल के लिए ₹20000 का समझौता

जनवरी 2021 से दिसंबर 2024 तक के लिए लागू इस समझौते के तहत अन्य सुविधाओं के साथ वेतन वृद्धि ग्रास में होगी, जिसमें से ₹13600 फिक्स वेतन व अन्य वेरिएबल व पीपीएस के तहत होगा।

गुड़गांव। परफेट्टी वन मेले इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, आइएमटी मानेसर (गुड़गाँव) में 22 दिसंबर को प्रबंधन और यूनियन पक्ष के मध्य रुपए 20,000 का 4 साल का दीर्घकालिक समझौता संपन्न हुआ। इसके अलावा कई सुविधाओं में भी वृद्धि हुई है।

स्थाई श्रमिकों के लिए सम्पन्न यह समझौता जनवरी 2021 से दिसंबर 2024 तक के लिए लागू होगा।

वेतन वृद्धि-

समझौते के तहत 4 वर्षों के लिए ₹20000 की बढ़ोतरी होगी जिसमें से-

  • फिक्स वेतन में ₹13600 की वृद्धि 1 जनवरी 2021 से लागू होगी।
  • वेरिएबल राशि ₹4000 की वृद्धि पिछले समझौते की भांति 1 अप्रैल 2021 से होगी।
  • पीपीएस के तहत ₹2400 की वृद्धि 1 जनवरी 2021 से लागू होगी।
  • समझौते की राशि का वितरण क्रमशः प्रथम वर्ष में 45%, द्वितीय वर्ष में 25% और तीसरे व चौथे वर्ष 15-15% की होगी।

अन्य सुविधाओं में वृद्धि-

  • मेडिक्लेम पॉलिसी पूर्व की भांति रहेगी। 50-50% भागीदारी के साथ दोनों पक्ष आपसी सहमति से एक नई आंतरिक पॉलिसी बनाएंगे।
  • ग्रुप टर्म इंश्योरेंस ₹15 लाख से बढ़ाकर ₹20 लाख हुआ है।
  • बेटी की शादी पर मिलने वाली शगुन राशि ₹15000 से बढ़ाकर ₹21000 हुई।
  • मासिक उपस्थिति पुरस्कार ₹700 से बढ़ाकर ₹1000 और ₹500 को बढ़ाकर ₹700 किया गया।
  • रात्रि पाली में काम करने वाले श्रमिक को ₹35 प्रति शिफ्ट के हिसाब से भत्ता मिलेगा। पूर्व में मिलने वाली रात्रि पाली भत्ते को किसी अन्य मद में जोड़ा जाएगा।
  • समस्त स्थाई कर्मचारियों को ₹7500 एकमुश्त वार्षिक सगुन राशि के तौर पर जनवरी 2022 के वेतन के साथ मिलेगा।

समझौते के तहत यह भी तय हुआ है कि भविष्य में नई स्थाई नियुक्तियों पर वेतन वृद्धि 5 साल तक के अनुभव पर समझौते की राशि का 50%, 5 से 10 साल अनुभव पर 60%, 10 से 15 साल के अनुभव पर 75% तथा 15 साल से अधिक के अनुभव पर दीर्घकालिक समझौते की राशि का 100% वेतन वृद्धि का लाभ मिलेगा।

इस समझौते पर यूनियन की ओर से ओमपाल सिंह प्रधान, रूप सिंह महासचिव, रमेश कुमार उपप्रधान, राज्यपाल संयुक्त सचिव, सुंदर सिंह संगठन सचिव, ओमप्रकाश (लाला) कानूनी सलाहकार, देवानंद चौहान कार्यालय सचिव तथा दिनेश पंडित कोषाध्यक्ष ने हस्ताक्षर किए। जबकि प्रबंधन पक्ष से कारखाना प्रबंधक अनुराग जैन, सहायक निदेशक मानव संसाधन विवेक कुमार त्यागी, सहायक मुखिया मानव संसाधन धीरेंद्र सिंह तथा सहायक प्रबंधक मानव संसाधन सोनू राठी ने हस्ताक्षर किए हैं।

भूली-बिसरी ख़बरे

%d bloggers like this: