संसद विरोध मार्च को लेकर उत्साह, जारी होगा आईडी कार्ड

राजद्रोह के आरोप के विरोध में 17 जुलाई को सिरसा में महापंचायत

संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर 22 जुलाई से किसानों के संसद विरोध मार्च को लेकर उत्साह बढ़ता जा रहा है। एसकेएम द्वारा मार्च में शामिल होने वाले किसानों को आईडी कार्ड जारी किया जायेगा। उधर, दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे धरनों में भी उत्साह का माहौल है। रोज़ाना किसानों के जत्थे शामिल हो रहे हैं। आज क्रांतिकारी किसान संघ की महिला किसानों की विशाल टुकड़ी सिंघू सीमा पर जारी धरने में शामिल हुई

उधऱ, हरियाणा पुलिस द्वारा किसानों पर राजद्रोह का आरोप लगाने के विरोध में 17 जुलाई को सिरसा में महापंचायत का आयोजन होगा। इसमें भारी संख्या में लोगों के जुड़ने की उम्मीद है।  एसकेएम ने चंडीगढ़ पुलिस द्वारा बाबा लाभ सिंह की अवैध हिरासत की निंदा की है। किसान आंदोलन के समर्थन में मटका चौक पर बाबा कई महीनों से धरने पर बैठे थे। किसानों के दबाव में रात 11 बजे बाबा को छोड़ा गया

संयुक्त किसान मोर्चा के बयान में कहा गया है कि भाजपा नेता द्वारा दुर्व्यवहार के विरोध में 18 जुलाई को रोहतक में महिला महापंचायत होगी। इसके अलावा बरनामा में युवाओं का राज्य सम्मेलन होगा।

बयान में बताया गया है कि न्यूजीलैंड के किसानों ने दिल्ली सीमा पर चल रहे किसान आंदोलन के साथ एकजुटता में प्रदर्शन किया। इसके अलावा प्रख्यात अर्थशास्त्री रणजीत सिंह घुम्मन ने टिकरी सीमा का दौरा किया और किसानों को संबोधित किया और दोलन के प्रति समर्थन व्यक्त किया।

संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा जारी (232वां दिन, 16 जुलाई 2021)

जारीकर्ता – बलबीर सिंह राजेवाल, डॉ दर्शन पाल, गुरनाम सिंह चारुनी, हन्नान मोल्ला, जगजीत सिंह दल्लेवाल, जोगिंदर सिंह उगराहन, शिवकुमार शर्मा ‘कक्काजी’, युद्धवीर सिंह, योगेंद्र यादव।

भूली-बिसरी ख़बरे

%d bloggers like this: