अब मीरा इंडस्ट्रीज आग के हवाले, डेढ़ माह में सिड़कुल की तीसरी फैक्ट्री में लगी आग

सामान जलाकर राख, मज़दूरों ने भागकर बचाई जान

रुद्रपुर (उत्तराखंड)। औद्योगिक क्षेत्र सिडकुल में डेढ़ माह में तीसरी फैक्ट्री में आग लगाने की घटना सामने आई है। आज मंगलवार को गत्ता बनाने वाली मीरा इंडस्ट्रीज में आग लग गई। इससे करोड़ों का मशीन, गत्ता समेत अन्य सामान जलकर राख हो गया। उस वक्त फैक्ट्री में काम चल रहा था, मज़दूरों ने किसी तरह अपनी जान बचाई और आग बुझाने में तत्परता दिखलाई।

उधम सिंह नगर के पंतनगर सिड़कुल सेक्टर चार, प्लाट 27 स्थित मीरा इंडस्ट्रीज गत्ता बनाने का काम करती है। सुबह की शिफ्ट में मज़दूर काम कर रहे थे। इसी बीच साढ़े 9 बजे के आसपास अज्ञात कारणों के चलते आग लग गई। गत्तों से धुंआ उठता देख काम कर रहे मज़दूरों ने आग बुझाने का प्रयास किया।

सिडकुल की गत्ता बनाने वाली मीरा इंडस्ट्रीज में लगी आग, करोड़ों का नुकसान

फैक्ट्री में गत्ते का काम होता है, इसलिए देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। काम कर रहे मज़दूरों ने किसी तरह अपनी जान बचाई और कंपनी के एमडी निखिल के साथ ही पुलिस और फायर विभाग को सूचना दी। सूचना पर सिडकुल और रुद्रपुर फायर के पांच वाहन पहुंच गए। साथ ही सिडकुल की अलग अलग कंपनियों से भी फायर के तीन वाहन पहुंच गए। करीब चार घंटे तक फायर के आठों वाहनों ने जैसे तैसे आग पर काबू पाया। 

आग लगने के दौरान फैक्ट्री में काम चल रहा था, जिसके चलते श्रमिकों ने तत्काल भाग कर अपनी जान बचाई। आग लगने के दौरान फिलहाल कोई जनहानि नहीं हुई। फिलहाल दमकल के अधिकारी मामले की जांच में जुट गए हैं।

डेढ़ माह में आग लगाने की तीसरी घटना

उल्लेखनीय है कि बीते 14 मई को पंतनगर सिडकुल के सेक्टर 7 स्थित एवीएस लाइटिंग सोल्युशन फैक्ट्री में आग लग जाने से हड़कंप मच गया। फैक्ट्री की तीनों मंजिलों से आग की भयंकर लपटें निकल रही थीं और चारो तरफ धुंए के बादल छा गए। मज़दूरों ने बाहर भाग कर अपनी जान बचाई।

इससे एक माह पूर्व सिडकुल की एक अन्य फैक्ट्री दुर्गा फाइबर में लगी भीषण आग में फंसे 23 वर्षीय श्रमिक देवस्वरूप की दर्दनाक मौत हो गई। मृतक के परिजनों की सूचना के बाद कंपनी में चले सर्च अभियान में दूसरे दिन उसका कंकाल मिला था।

भूली-बिसरी ख़बरे

%d bloggers like this: