यूपी: अस्पताल में बेड ना मिलने पर बीजेपी विधायक के घर के सामने डेरा डाला

उत्तर प्रदेश के सार्वजनिक और निजी अस्पतालों में बेड और ऑक्सीजन की आपूर्ति जैसी चिकित्सा सुविधाओं की कमी के कारण बढ़ते हुए जन असंतोष की कई रिपोर्टों के बीच और राज्य सरकार द्वारा इन रिपोर्टों को लगातार नकारे जाने के बीच एक भयावह घटना सामने आई है।

यूपी मुजफ्फरनगर जिले में लाख कोशिशों के बावजूद कोरोना संक्रमित महिला को अस्पताल में बेड ना मिलने पर उसके परिजन महिला को लेकर बीजेपी के विधायक उमेश मलिक के घर के सामने बैठ गए।

घटना 30 अप्रैल की है। मुजफ्फरनगर जिले में बुढाना ब्लॉक के सोरन गांव में एक बुज़ुर्ग संक्रमित महिला के परिजन पूरे दिन कोशिश करने के बावजूद किसी अस्पताल में महिला को भर्ती कराने में नाकाम रहे। इस बीच इलाज ना मिलने से बुजुर्ग महिला की स्थिति और खराब हो गई। परेशान होकर महिला के परिजन अपने जनप्रतिनिधि और बीजेपी के विधायक उमेश मलिक के घर के सामने मरीज को लेकर पहुंच गए।

विधायक जी ने इस पर ध्यान नहीं दिया। लेकिन जब कहीं भी इलाज ना मिलने पर और चार-पांच मरीज अपने परिजनों के साथ विधायक आवास के सामने पहुंच गए उसके बाद भाजपा विधायक हरकत में आए। पहले तो उन्होंने बालकोनी में आकर मरीजों को वहां से जाने के लिए कहा लेकिन मरीज और उनके परिजन वही बैठे रहे उसके बाद थककर विधायक उमेश मलिक अपने घर से बाहर निकले और परिजनों और मरीजों से बात की।

बुजुर्ग महिला जिनकी तबीयत बहुत ज्यादा खराब हो गई थी उन्हें मुजफ्फरनगर मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया और दूसरे मरीजों को जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया।

मरीज और डॉक्टर उत्तर प्रदेश की दम तोड़ की स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर लगातार परेशान है। लोग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म टि्वटर फेसबुक इंस्टाग्राम के जरिए मदद की अपील कर रहे हैं और दवाइयों ऑक्सीजन वेंटिलेटर आईसीयू की उपलब्धता का पता लगा रहे हैं। सरकारी व्यवस्था पूरी तरीके से ठप्प हो चुकी है।

वहीं दूसरी तरफ योगी आदित्यनाथ सोशल मीडिया पर लोगों द्वारा ऑक्सीजन और दवाइयों की मदद मांगने पर इस अफवाह बता रहे हैं उनकी नजर में यह राज्य को बदनाम करने का प्रयास है इसलिए उन्होंने अपने अधिकारियों को सोशल मीडिया पर मदद मांगने वालों के खिलाफ रासुका और गुंडा एक्ट लगाने आदेश जारी कर दिया। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने इस तरह के रवैया की आलोचना करते हुए राज्य सरकारों को चेतावनी दी है।

भूली-बिसरी ख़बरे

%d bloggers like this: