अबकी बार…. 1 अप्रैल से महंगाई की और बड़ी मार के लिए रहें तैयार

दूध, बाइक, फ्रिज से लेकर सफर तक होगा और महँगा

पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस और खाद्य तेल की कीमतों में हुई बेतहाशा वृद्धि के कारण पहले से ही परेशान आम लोगों पर 1 अप्रैल से महंगाई की मार पड़ने वाली है. 1 अप्रैल से नया वित्त वर्ष शुरू होने जा रहा है और इसी दिन से बजट के प्रावधान लागू हो जाते हैं. इनके लागू होते ही आपके जरूरत और रोज इस्तेमाल में आने वाली चीजों के दाम में बढ़ोतरी होने जा रही है, जिसका सीधा असर आपकी जेब पर पड़ेगा.

गर्मियों का सीजन आ गया है. अगर आफ एसी की ठंडी हवा लेना चाहते हैं या फ्रिज खरीदने की योजना बना रहे हैं तो एक अप्रैल से इसके लिए आपको ज्यादा कीमत चुकानी पड़ेगी. कच्चे माल की कीमत में बढ़ोत्तरी से कंपनियों ने दाम बढ़ाने का निर्णय लिया है. माना जा रहा है कि एसी और फ्रीज की कीमतों में दो हजार रुपए तक की बढ़ोतरी हो सकती है.

एक अप्रैल से दूध की कीमतें भी बढ़ सकती हैं. किसान दूध के दाम बढ़ाने की बात कह रहे हैं. हालांकि इस पर अभी तक कोई अंतिम फैसला नहीं हुआ है. किसानों ने दूध के दाम को 55 रुपए प्रति लीटर करने की बात कही है. अगर ऐसा हो जाता है तो आफको दूध के लिए अधिक कीमत चुकानी पड़ेगी.

1 अप्रैल से टीवी के दाम भी बढ़ जाएंगे. बता दें कि इस साल टीवी के दामों में पहले ही बढ़ोतरी देखने को मिल चुकी है. अब एक बार फिर रेट बढ़ने से आम लोगों को काफी असर पड़ेगा. लॉकडाउन लगने के बाद से देश में टीवी के दाम में 4 हजार रुपए तक की वृद्धि पहले ही हो चुकी है. अब एक अप्रैल से टीवी खरीदने पर 2 से 3 हजार रुपए अधिक चुकाने होंगे.

एक अप्रैल के बाद कार और बाइक खरीदने पर आपको ज्यादा कीमत चुकानी होगी. ज्यादातर कंपनियों ने कार और बाइक की कीमतों को बढ़ाने का मन बना चुकी हैं. कई कंपनियों ने इसकी घोषणा भी कर दी है. कोरोना काल में पब्लिक ट्रांसपोर्ट से यात्रा करने से लोग बच रहे हैं, इसलिए कार और बाइक की मांग में बढ़ोतरी हुई है.

एक अप्रैल से एक्सप्रेसवे पर सफर करना महंगा हो जाएगा. उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण ने पहले से ही नई दरों को मंजूरी दे दी है. नई दरें 1 अप्रैल से लागू हो जाएंगी. इसके बाद आपके 5 रुपए से लेकर 25 रुपए तक अधिक चुकाने होंगे.

अगर आप हवाई जहाज से यात्रा करते हैं तो आपको ज्यादा खर्च करना पड़ेगा. एक अप्रैल से विमानन सुरक्षा शुल्क की दरों में हुई बढ़ोतरी लागू हो जाएगी, जिसका असर हवाई यात्रियों की जेब पर पड़ेगा. घरेलू उड़ानों के लिए विमानन सुरक्षा शुल्क 160 से बढ़ाकर 200 रुपए कर दिया गया है. वहीं अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए इस शुल्क में दोगुना से अधिक की वृद्धि की गई है.

भूली-बिसरी ख़बरे

%d bloggers like this: