मज़दूरों ने माइक्रोमैक्स प्रबन्धन की दमनकारी नीतियों का होलिका दहन किया

कोर्ट के आदेश के बावजूद कार्यबहाली की जगह आपत्तियों का विरोध

पंतनगर (उत्तराखंड)। आज दिनांक 28 मार्च को भगवती-माइक्रोमैक्स के श्रमिकों द्वारा कार्यबहाली की जगह प्रबंधन की कथित आपत्तियों का होलिका दहन कंपनी गेट/धरना स्थल पर किया गया। श्रमिकों ने कहा कि उनकी कार्यबहाली होने पर ही श्रमिकों की वास्तविक होली होगी।

मज़दूरों ने कहा कि भगवती प्रोडक्ट लिमिटेड माइक्रोमैक्स द्वारा केन्द्र सरकार से प्राप्त पीएलआई स्कीम के तहत कंपनी के अन्य प्लांट में कार्य पुर्ण रुप से सुचारु है और नये श्रमिकों की भर्ती लगातार जारी हैं। माइक्रोमैक्स का प्रोडक्ट पूरे देश में धड़ल्ले से बिक रहा है।

दूसरी ओर भगवती प्रोडक्ट लिमिटेड माइक्रोमैक्स के मदर प्लांट रुद्रपुर उत्तराखंड में 5 से 10 वर्षों से सेवा दे रहे 351 श्रमिकों को छटनी, ले -आफ व टर्मिनेशन कर दिसंबर 2018 से कंपनी में काम न होने का कारण बताकर बाहर का रास्ता दिखाया है। श्रमिकों द्वारा अपनी कार्यबहाली हेतु दिसंबर 2018 से ही कंपनी गेट में फुटपाथ पर धरनारत/संघर्षरत हैं और लगातार तीसरी फीकी/बदरंग होली जारी है।

मज़दूरों ने कहा कि इसके बावजूद रुद्रपुर के श्रमिक फीकी होली के लिए मजबूर हैं, वहीं दूसरी ओर पूरे देश, राज्य व भगवती (माईक्रोमैक्स) से संबंधित अन्य सभी श्रमिकों की गैरकानूनी छंटनी जारी है। औद्योगिक न्यायाधिकरण से छँटनी अवैध होने के बावजूद कार्यबहाली नहीं हो रही है। इसलिए भगवती रुद्रपुर के श्रमिकों की तीसरी होली बदरंग/फीकी होगी।

श्रमिकों द्वारा होलिका दहन में प्रबंधन की सभी आपत्तियों का दहन कंपनी गेट/धरना स्थल पर किया गया। प्रबंधन द्वारा लगातार श्रमिकों को कार्य बहाली से वंचित रखते हुए काम ना होने के बहाने, मार्केट डिमांड कम होने के नाम पर, राज्य सरकार की नीतियां सही ना होने का, किसी इन्वेस्टर के रूद्रपुर प्लांट में न आना आदि आपत्ति का विरोध स्वरूप दहन किया गया।

भूली-बिसरी ख़बरे

%d bloggers like this: