भगत सिंह शहादत, 23 मार्च पर दिल्ली सरहदों पर जुटेंगे युवा

“जिंदा है तो दिल्ली आजा, संघर्षो में शामिल हो जा।”

नई दिल्ली, 15 मार्च 2021. तीन नए कृषि कानून के खिलाफ राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की सीमाओं पर विगत 110 दिनों को आंदोलन कर रहे किसान नेताओं ने युवाओं से सर्मथन का आह्वान करते हुए टी-शर्ट लॉन्च की है, जिस पर लिखा है, “जिंदा है तो दिल्ली आजा, संघर्षो में शामिल हो जा।”

किसान नेताओं ने बताया कि 23 मार्च को सरदार भगत सिंह और क्रांतिकारी कवि अवतार सिंह ‘पाश’ के शहादत दिवस पर हजारों की संख्या में नौजवान आंदोलन में शामिल होंगे। उससे पहले, आंदोलन स्थल पर अनशन कर रहे किसानों को पहनाकर उनसे टी-शर्ट लॉन्च कराया गया।

“ये टी-शर्ट एक निजी संस्थान ने बनवाई है। टी-शर्ट पर लिखी पंक्तियां प्रसिद्ध कवि बल्ली सिंह चीमा की एक कविता से ली गई हैं। फिलहाल एक हजार टी-शर्ट बनवाई गई हैं। आगामी दिनों में एक लाख टी-शर्ट तैयार करवाने की योजना है। ये टी-शर्ट दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर आंदोलन कर कर रहे किसानों तक पहुंचाई जाएंगी।”

भूली-बिसरी ख़बरे

%d bloggers like this: