प्रशासन से वायदा खिलाफी के विरुद्ध रॉकेट के मज़दूर आंदोलित

मज़दूरों का कंपनी गेट पर धरना शुरू, 1 मार्च से हड़ताल

रुद्रपुर (उत्तराखंड)। रॉकेट इंडिया पंतनगर के प्रबंधन द्वारा प्रशासनिक कमेटी के साथ वायदा खिलाफी के खिलाफ मज़दूरों ने सत्याग्रह आंदोलन के तहत कंपनी गेट पर 16 फरवरी से धरना शुरू कर दिया है। रॉकेट रिद्धि सिद्धि कर्मचारी संघ ने कहा है कि माँगपत्र पर यदि प्रबन्धन की हठधर्मिता बनी रही तो एक मार्च से कंपनी के सभी मज़दूर हड़ताल पर चले जाएंगे।

यूनियन अध्यक्ष गोविंद सिंह ने बताया कि कंपनी में नए वेतन समझौते के लिए प्रबंधन की हठधर्मिता पर यूनियन का माँगपत्र पिछले 11 महीने से विवादित है। उन्होंने कहा कि अपर जिलाधिकारी महोदय की अध्यक्षता में बनी उच्च स्तरीय कमेटी के सामने प्रबंधन ने दिसम्बर माह में 10 दिन में समझौता संपन्न करने का वायदा किया लेकिन उससे मुकर गया।

दोबारा 29 जनवरी को कमेटी के सामने पुनः हुई वार्ता में प्रबंधन ने एक माह में समझौता कर लेने का आश्वासन दिया है इसके बावजूद प्रबंधन का अड़ियल रुख कायम है जिससे श्रमिकों में रोष है। इसी के विरोध में कंपनी गेट पर नियमित रूप से धरना प्रारंभ हो गया है।

यूनियन के महामंत्री संजय सिंह ने कहा कि कोरोना व लॉकडाउन की विकट स्थितियों में भी मज़दूरों ने कंपनी में लगातार प्लांट चलाया और कंपनी में लगातार भारी उत्पादन होता रहा और प्लांट कभी बंद नही हो सका। हर स्थिति में यूनियन और श्रमिकों ने प्रबंधन का सहयोग किया लेकिन जब मज़दूरों को देने की बारी आई तो प्रबंधन हठधर्मिता दिखला रहा है।

उन्होंने कहा कि हालांकि यूनियन ने कई बार आंदोलन के कदम आगे बढ़ाए, दीपावली के समय अवकाश की अपनी घोषित योजना को सहायक श्रम आयुक्त महोदय की अनुरोध पर यूनियन ने स्थगित किया। लेकिन प्रबंधन अधिकारियों की बात से लगातार मुकरता रहा है। इसलिए सत्याग्रह आंदोलन हमने शुरू किया है और 1 मार्च से सभी श्रमिक अनिश्चितकालीन वैधानिक हड़ताल पर जाने को विवश होंगे।

प्रचार मंत्री बालम सिंह ऐरी ने बताया कि यूनियन द्वारा कंपनी गेट पर अपने झंडे तले डयूटी करते हुए शिफ्ट वाइज सांकेतिक वैधानिक शांतिपूर्ण धरना जारी हैं। अगर रॉकेट मैनेजमेंट फिर भी अपनी हठधर्मिता पर रहती हैं तो यूनियन अपने तय लिखित सूचना के अनुसार दिनांक 01/03/2021 से वैधानिक हड़ताल पर जाएगी।

%d bloggers like this: