बिजली की लूट के खिलाफ अधिशासी अभियंता का घेराव, विधायक निवास पर धरना

22 फरवरी को हनुमानगढ़ से शुरू होगी ट्रेक्टर-ट्रोली यात्रा

नोहर (राजस्थान)। बिजली उपभोक्ता संघर्ष समिति हनुमानगढ़ के बैनर तले बिजली कंपनियों की मनमानी लूट के खिलाफ 7 जनवरी को नोहर अधिशासी अभियंता कार्यालय का घेराव कर ज्ञापन दिया गया। इसके उपरांत गुस्साए आंदोलनकारियों ने शहर में रैली निकालकर विधायक निवास के सामने धरना दिया। जहाँ मुख्यमंत्री से बातकर राहत दिलाने के आश्वासन पर धरना समाप्त हुआ।

उल्लेखनीय है कि बिजली उपभोक्ता संघर्ष समिति हनुमानगढ़ की ओर से बिजली कंपनियों की मनमानी के ख़िलाफ़ पिछले डेढ़ साल से लगातार आन्दोलन चल रहा है।

इसी क्रम में पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत नोहर बिजली विभाग के सामने नेठराना, भादरा, भरवाना खचवाना मुंसरी,रामगढ़ बरवाली सोनडी, सोती करोति, दीपलाना परलिका, गुड़िया, पदमपुरा, रतनपुरा नोहर व कई अन्य गांव से सैकड़ों ग्रामीणों ने बिजली विभाग का घेराव कर आक्रोश जताया। विभिन्न माँगों के साथ मुख्य प्रबन्धक जोधपुर डिस्कॉम के नाम अधिशासी अभियंता को ज्ञापन सौंपा गया।

इसके उपरांत गुस्साए आंदोलनकारियों ने शहर में रैली निकालते हुए विधायक निवास के सामने प्रदर्शन किया और धरना दिया। इस आश्वासन पर कि विधायक महोदय मुख्यमंत्री से बात कर आम जनता को राहत दिलाएंगे तब जाकर ग्रामीणों ने धरना हटाया।

संघर्ष समिति पिछले लंबे समय से माँग कर रही है कि कोरोना में बकाया बिजली के बिल माफ किए जाएं, स्थाई शुल्क, विद्युत शुल्क, जल संरक्षण, नगरीय कर, ऑडिट व अन्य राशि के रूप में हो रही नाजायज वसूली को बिजली विभाग तुरंत बंद करें व साथ ही साथ घटिया व तेज चलने वाले मीटरों को तुरंत हटाया जाए, दिल्ली की तरह प्रत्येक परिवार को 200 यूनिट बिजली मुफ्त दी जाए, बिजली विभाग का निजीकरण बंद किया जाए, भ्रष्टाचार व घोटालों पर अंकुश लगाया जाए आदि।

संघर्ष समिति के सदस्य ने बताया कि राज्य भर में बिजली के मुद्दे पर अलग-अलग जिलों में चल रहे संघर्षों को एकजुट किया जाएगा व 22 फरवरी से हनुमानगढ़ जिले से एक ट्रैक्टर ट्रॉली यात्रा रवाना की जाएगी जो अलग-अलग जिलों में घूमते हुए बिजली के मुद्दे पर जनजागृति अभियान चलाएगी व मुख्यमंत्री निवास जयपुर तक इस आंदोलन को लेकर जाएगी।

आज हनुमानगढ़, नागौर व जयपुर जिले में भी इस सम्बंध में अलग अलग सामाजिक कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपे।

%d bloggers like this: