जेबीएम ग्रुप की नील मेटल में ₹9825 का समझौता

एक साल से लंबित था माँगपत्र, एरियर पूरा मिलेगा

पंतनगर (उत्तराखंड)। एक साल के संघर्ष के बाद जेबीएम ग्रुप की नील मेटल प्रोडक्ट्स लिमिटेड, पंतनगर में प्रबंधन और यूनियन के बीच 47 माह के लिए 9825 रुपए का वेतन समझौता संपन्न हो गया। समझौते के तहत कई अन्य सुविधाएं भी बढ़वाने में यूनियन कामयाब रही।

थाई सुमित नीला ऑटो कामगार संगठन द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार यूनियन ने 4 अक्टूबर, 2019 को अपना माँगपत्र दिया था। पिछले एक साल से कई दौर की वार्ताएं चली और अंततः 47 माह का यह समझौता दिनांक 27/11/2020 को संपन्न हुआ।

समझौता 1 नवंबर 2019 से 30 सितंबर 2023 तक के लिए हुआ है और श्रमिकों को पिछले 1 साल की वेतन वृद्धि के पूरे एरियर का भुगतान कंपनी द्वारा किया जाएगा।

समझौते के मुख्य बिंदु-

  • वेतन बृद्धि : 47 माह के लिए ₹9825
  • वीडीए : इसके अतिरिक्त सरकार द्वारा जारी अधिसूचना के तहत महंगाई भत्ता मिलेगा
  • नाइट शिफ्ट एलाउंस ₹50 से बढ़कर ₹100 हुआ
  • मेडिकल सुविधा रुपए 3 लाख हुआ। इसके तहत एक लाख रुपये के मेडिक्लेम से अतिरिक्त 2 लाख रुपए तक खर्च होने पर कंपनी द्वारा भुगतान होगा
  • कंपनी गेट पर यूनियन का नोटिस बोर्ड लगाने पर सहमति बनी
  • दीपावली गिफ्ट में प्रति साल ₹100 की वृद्धि होगी जिसके तहत 2021 में 14 सौ रुपए, 2022 में 15 सौ रुपए और 2023 में 16 सौ रुपए का गिफ्ट देय होगा
  • बोनस का भुगतान एक्ट के अनुसार ₹16800 (20%) होगा
  • श्रमिकों की आवश्यकता पर डेढ़ लाख रुपए तक ब्याज रहित एडवांस की सुविधा मिली है, जिसकी अदायगी छोटी किस्तों में होगी। इसके साथ विशेष परिस्थितियों में आवश्यकतानुसार यह राशि और बढ़ाई जाएगी

समझौते में थाई सुमित नील ऑटो कामगार संगठन की ओर से यूनियन अध्यक्ष सी एस तिवारी, हरेंद्र पांडेय, गोपाल, संजय कुमार यादव, नागेंद्र बहादुर सिंह, अश्वनी कुमार और भगवान सिंह शामिल रहे।

संघर्ष के बाद इस समझौते पर मजदूर सहयोग केंद्र ने यूनियन को बधाई दी है!

भूली-बिसरी ख़बरे