राष्ट्रपति पद के दावेदार बोबी वाइन की गिरफ़्तारी से पूरे युगांडा में विरोध-प्रदर्शन

कोरोना वायरस दिशानिर्देशों का उल्लंघन करने का आरोप

युगांडा में राष्ट्रपति पद के दावेदार और पॉप कलाकार बोबी वाइन की गिरफ्तारी के खिलाफ व्यापक विरोध गुरुवार 19 नवंबर को जारी रहा। सुरक्षा बलों की दमनात्मक कार्रवाईयों में अब तक कम से कम 19 लोगों की मौत हो गई है और कम से कम 65 लोग घायल हो गए हैं जबकि 350 से अधिक लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

राजधानी कंपाला शहर में बख्तरबंद वाहनों में घूम रहे सैनिकों ने प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस के गोले दागे, वाटर केनन का इस्तेमाल किया और गोलियां चलाई। सोशल मीडिया पर किए गए कुछ पोस्टों में विरोध प्रदर्शनों को देखने के लिए अपनी बालकनी में खड़े लोगों पर पुलिस को अंधाधुंध फायरिंग करते हुए देखा गया।

बोबी वाइन को बुधवार 18 नवंबर को उस समय गिरफ्तार किया गया था जब वह देश के पूर्वी हिस्से में प्रचार कर रहे थे। उन्हें बड़े पैमाने पर रैलियों के आयोजन के चलते “कोरोनावायरस दिशानिर्देशों” का उल्लंघन करने के लिए गिरफ्तार किया गया था।

उनकी गिरफ्तारी की खबर आने के बाद बुधवार को पूरे देश में विरोध प्रदर्शन हुआ। युगांडा पुलिस द्वारा वाइन के ठिकाने का खुलासा नहीं किया गया है। अल जज़ीरा ने रिपोर्ट किया उनके प्रवक्ता के अनुसार के पूर्वी शहर जिन्जा में वाइन को अधिक सुरक्षा वाले पुलिस परिसर में रखा गया है।

38 वर्षीय बॉबी वाइन जिनका असली नाम रॉबर्ट कियागुलानियी है वह लंबे समय से पदस्थ राष्ट्रपति योवेरी मुसेवेनी और उनके नेशनल रेसिस्टेंस मूवमेंट के खिलाफ सबसे मजबूत दावेदार के रूप में उभरे हैं जो 1986 से सत्ता में हैं। वाइन को राष्ट्रपति चुनावों के लिए उम्मीदवार के रूप में पेश किए जाने के तुरंत बाद इस महीने के शुरू में ही गिरफ्तार कर लिया गया था।

एक आधिकारिक बयान में राष्ट्रपति मुसेवेनी ने बोबी समर्थकों को बाहरी और समलैंगिक बताते हुए हिंसा में लिप्त होने और लोगों के जीवन को बचाने के लिए समर्पित कानूनों और दिशानिर्देशों का सम्मान नहीं करने का आरोप लगाया था। गुरुवार तक युगांडा में 158 से अधिक मौतों के साथ कोविड-19 संक्रमण के 17,100 से अधिक मामले की पुष्टि हुई है। केवल गुरुवार को देश में 243 नए मामले और एक मौत दर्ज की गई। राष्ट्रपति और देश की विधायिका के लिए चुनाव 14 जनवरी को होने वाले हैं।

भूली-बिसरी ख़बरे