रुद्रपुर : श्रमिक समस्याओं को लेकर श्रम भवन का घेराव

श्रमिक संयुक्त मोर्चा के नेतृत्व में डीएलसी को दिया ज्ञापन

रुद्रपुर (उत्तराखंड) 28 अक्टूबर। आज श्रमिक संयुक्त मोर्चा उधम सिंह नगर के नेतृत्व में सिडकुल की विभिन्न कंपनियों की श्रमिक समस्याओं को लेकर मज़दूरों ने उप श्रम आयुक्त कार्यालय का घेराव किया और ज्ञापन देकर समस्याओं के तत्काल निस्तारण की माँग की। मोर्चा ने चेतावनी दी कि यदि तत्काल समाधान नहीं निकाला गया तो श्रमिकों का सामूहिक आंदोलन तेज होगा।

इस अवसर पर आयोजित सभा में वक्ताओं ने श्रम विभाग की लापरवाही और श्रमिकों को बेवजह उत्पीड़ित करने व परेशान करने और मामलों को लंबित रखने का आरोप लगाया और यह चेतावनी दी गई कि मज़दूरों का दमन शोषण बंद नहीं हुआ तो क्षेत्र के मज़दूरों का एक बड़ा आंदोलन सड़क पर उतरेगा, जिसकी ज़िम्मेदारी श्रम विभाग की होगी।

मोर्चा की ओर से दिए गए 10 सूत्रीय ज्ञापन द्वारा भगवती प्रोडक्ट्स माइक्रोमैक्स के 303 श्रमिकों की औद्योगिक न्यायाधिकरण हल्द्वानी के आदेशानुसार सवेतन कार्यबहाली, वोल्टास लिमिटेड के 9 श्रमिकों की सवेतन कार्यबहाली और अन्य विवादों का समाधान, एलजी बालाकृष्णन एंड ब्रास लिमिटेड के महामंत्री की कार्यबहाली सहित अनुचित श्रम व्यवहार पर रोक लगाने, गुजरात अंबुजा एक्सपोर्ट लिमिटेड सितारगंज के समस्त 115 श्रमिकों की गैरकानूनी गेट बंदी खोलने की माँग बुलंद हुई।

ज्ञापन में लिखा है कि यह एक परंपरा बन चुकी है कि यूनियन बनने के बाद ज्यादातर कंपनियों में यूनियन पदाधिकारी व श्रमिक उत्पीड़न के शिकार बन जाते हैं। इसी क्रम में बजाज मोटर्स, करोलिया लाइटिंग, लुकास टीवीएस में पदाधिकारियों की गेटबंदी और उत्पीड़न ताजा उदाहरण है।

महिंद्रा एंड महिंद्रा में भी यूनियन बनने के समय से ही दमन जारी है और पिछले सालों से रुके हुए बोनस को देने और मांग पत्र के समाधान की मांग की गई।

नेस्ले इंडिया, बीसीएच, इंट्रार्क पंतनगर, इंट्रार्क किच्छा, रॉकेट रिद्धि सिद्धि, पारले बिस्किट पंतनगर, पारले बिस्किट सितारगंज, हेंकल एडिसिब्स, महिंद्रा सीआईई, मंत्री मेटल, सेटको सितारगंज आदि के माँगपत्रों के तत्काल समाधान की माँग हुई।

ज्ञापन में लिखा है कि सुरक्षा मानकों की अनदेखी के कारण तमाम कंपनियों में आए दिन होने वाले हादसों में श्रमिकों के अंग भंग होने से लेकर जान जाने की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही है, जिसपर रोक लगाया जाना चाहिए।

आज विभाग में डीएलसी व एएलसी नदारत रहे, जिससे श्रम प्रवर्तन अधिकारी ने ज्ञापन लिया।

आज के प्रदर्शन में श्रमिक संयुक्त मोर्चा अध्यक्ष दिनेश तिवारी, महासचिव गणेश मेहरा, मज़दूर सहयोग केंद्र के मुकुल, इंकलाबी मज़दूर केंद्र के दिनेश भट्ट, एलजीबी वर्कर्स यूनियन के पूरन पांडे, भगवती श्रमिक संगठन के नंदन सिंह, इंट्रार्क मज़दूर संगठन के वीरेंद्र कुमार, वोल्टास इंप्लाइज यूनियन के दिनेश चंद्र पंत, पारले श्रमिक संगठन सितारगंज के पूरन सिंह, रॉकेट रिद्धि सिद्धि के गोविंद सिंह, ब्रिटानिया श्रमिक संघ के जीवन परगाई, मंत्री मेटेलिक्स से हेमंत भट्ट, बीसीएच इलेक्ट्रिकल से महिपाल सिंह, नेस्ले कर्मचारी संगठन के चंद्रमोहन लखेड़ा, महिंद्रा कर्मकार यूनियन के अजय कुमार, लुकास टीवीएस मज़दूर संघ से बसंत गोस्वामी, हेंकल मज़दूर संगठन से घनश्याम, एडविक कर्मचारी संगठन से निरजेश यादव, कारोलिया लाइटिंग से सुनील यादव, इंट्राक मज़दूर संगठन किच्छा से पान मोहम्मद, यजकी वर्कर्स यूनियन से रविन्द्र, बजाज मोटर्स कर्मकार यूनियन के कुअँर सिंह कंडारी सहित सैकड़ों मज़दूर शामिल थे।

भूली-बिसरी ख़बरे