पितृसत्ता, जातिवाद तथा पूँजीवाद की बेड़ियों में जकड़ी हैं महिलाएं

दलित युवती से गैंगरेप : जयपुर व फरीदाबाद में भी आक्रोश प्रदर्शन

जयपुर (राजस्थान)। हाथरस में दलित युवती की गैंगरेप व हत्या व उसके उपरांत पुलिस व राज्य सरकार द्वारा अपराधियों का बचाव करने के खिलाफ देश भर में उपजे भारी असन्तोष के क्रम में जयपुर में क्रांतिकारी नौजवान सभा व अन्य जन संगठनों की ओर से 2 अक्टूबर को गाँधी सर्कल पर आक्रोश प्रदर्शन किया गया।

क्रांतिकारी नौजवान सभा (केएनएस) की ओर से कहा गया कि समाज में मौजूद पितृसत्ता, जातिवाद तथा पूँजीवाद की बेड़ियों में जकड़ी महिला के लिए सम्पूर्ण सामाजिक बदलाव के बिना औरत पर होने वाले जुल्मों को रोकना सम्भव नहीं है।

प्रदर्शनकारियों ने हाथरस की मनीषा को न्याय देने, अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा देने, परिवार को पूर्ण सुरक्षा व कानूनी सहायता आदि की माँग उठाई गई।

प्रदर्शनकारियों ने मोदी व योगी सरकार में चल रही तानाशाही के खिलाफ जमकर नारेबाजी की व पुलिस की भूमिका पर सवाल उठाए।

प्रदर्शन में केएनएस के अलावा ऑल इंडिया रेवोल्यूशनरी स्टूडेंट्स संगठन, दलित शोषण मुक्ति मंच व बाइकर क्लब के सदस्य मौजूद रहे।

इस प्रकरण पर क्रांतिकारी नौजवान सभा ने एक पर्चा भी वितरित किया-

फरीदाबाद में विशाल रोष प्रदर्शन

फरीदाबाद (हरियाणा)। उत्तर प्रदेश के हाथरस की युवती से हुए कुकर्म व हत्या के खिलाफ 2 अक्टूबर को भीम आर्मी, आजाद समाज पार्टी, संपूर्ण समाज और इंकलाबी मजदूर केंद्र के नेतृत्व में विशाल रोष प्रदर्शन के साथ मार्च निकाला गया। युवती को इंसाफ की माँग करते हुए सैकड़ों लोगों ने मार्च में भागीदारी की।

प्रदर्शन मार्च बाटा चौक से शुरू कर नीलम चौक, बीके चौक से एक नंबर मार्केट होते हुए बाटा चौक पर ही पहुंचा तथा एक छोटी सभा के साथ प्रदर्शन का समापन हुआ।

वक्ताओं ने महिलाओं पर बढ़ती हिंसा पर चिंता प्रकट करते हुए मोदी-योगी सरकार तथा उत्तर प्रदेश पुलिस की तीखे शब्दों में आलोचना की और दोषियों को यथाशीघ्र सख्त से सख्त सजा की मांग की।

भूली-बिसरी ख़बरे