यूपी : बिजली कर्मियों ने निकाला मशाल जुलूस, दी गिरफ्तारी

निजीकरण के ख़िलाफ़ बिजली कर्मी व अभियंता आए सड़क पर

पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम वाराणसी डिस्कॉम के निजीकरण फरमान के खिलाफ 28 सितम्बर को विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले पूरे प्रदेश में विरोध प्रदर्शन हुआ। अभियंताओं व कर्मचारियों ने प्रदर्शन किया, विरोध सभाएं हुई, मशाल जुलूस निकालकर विरोध जताया और गिरफ्तारियां दी।

ज्ञात हो कि पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड वाराणसी डिस्कॉम के तीन चरणों में प्रस्तावित निजीकरण के खिलाफ प्रदेशभर के बिजली कर्मियों में आक्रोश है।

निजीकरण के विरोध में पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम ने निकाला मशाल जुलूस -  Today's India News

राजधानी लखनऊ में सोमवार को अभियंताओं व कर्मचारियों ने गोखले मार्ग स्थित मध्यांचल मुख्यालय पर प्रदर्शन किया, फील्ड हॉस्टल पर विरोध सभा हुई, मशाल जुलूस निकालकर विरोध जताया और गिरफ्तारियां दी।

विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले पिछले कई दिनों से गोखले मार्ग स्थित मध्यांचल मुख्यालय के समक्ष विरोध प्रदर्शन चल रहा था। अभियंताओं ने सांसद, मंत्री और विधायकों को ज्ञापन देकर निजीकरण का विरोध जताया। यह प्रदर्शन 21 सितंबर से चल रहा था।

पदाधिकारियों ने सीएम से संबोधित ज्ञापन भी माननीयों को देकर आवाज उठाई थी कि निजीकरण का रास्ता बिजली विभाग को बर्बाद कर देगा। इसके बावजूद कोई सुनवाई न होने के कारण अभियंताओं ने फील्ड हॉस्टल से शक्ति भवन होते हुए हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा जीपीओ तक जुलूस निकला। यहां पहले से मौजूद पुलिस बल से आन्दोलनकारियों की झड़प भी हुई और सैकड़ों अभियंताओं ने गिरफ्तारियां भी दी।

 मेरठ :

निजीकरण के खिलाफ सोमवार को बिजली कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले बिजली कर्मचारी शाम चार बजे मेरठ के सिविल डिविजन पर इकट्ठा होकर विरोध सभा किया और मशाल जुलूस निकाला।

प्रदर्शन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर उड़ी धज्जियां।

गोंडा : 

गोंडा में भी पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के निजीकरण के विरोध में बिजली अभियंता व कर्मचारियों ने मशाल जुलूस निकाला। नारेबाजी करते हुए निर्णय वापस लेने की माँग की। माँगें न पूरी होने पर कार्य बहिष्कार की चेतावनी दी।

गोरखपुर :

बिजली कर्मचारी सोमवार की देर रात सड़क पर उतर आए। एकजुट कर्मचारियों ने गोरखपुर विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार से टाउनहॉल तक मशाल जुलूस निकालकर विरोध जताया। गांधी प्रतिमा के समक्ष धरना-प्रदर्शन भी किया।

बहराइच :

निजीकरण के विरोध विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति की अगुवाई में सोमवार को निकलने वाले मशाल जुलूस पर बहराइच जिला प्रशासन ने अचानक रोक लगा दी। पूर्व अनुमति के बावजूद प्रशासन के रवैये पर विद्युतकर्मियों ने गुस्सा जताते हुये कार्यालय पर ही मशाल जुलूस निकालकर प्रदर्शन करते हुए सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

फतेहपुर :

विद्युत कर्मियों ने विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले प्रदेश में विद्युत निजीकरण समाप्त करने की मांग को लेकर फतेहपुर शहर के हाईडिल कालोनी से विभिन्न चौराहे होते हुए पटेल नगर चौराहे तक मशाल जुलुस निकाला।

Purvanchal Vidyut Vitran Nigam organized torch procession in protest against privatization in fatehpur

सोनभद्र/अनपरा/ओबरा में विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष के लोगों ने सोमवार को शाम को निजीकरण के खिलाफ मशाल जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया। राबर्ट्सगंज में अधिशासी अभियंता कार्यालय से कर्मचारियों से मशाल जुलूस निकाला।

ओबरा में मशाल जुलूस निकाल कर विरोध करते बिजली कामगार।

आज़मगढ़ में विरोध प्रदर्शन-

सरकार के खिलाफ की नारेबाजी, निकाला मशाल जुलूस

झाँसी :

निजीकरण के विरोध में नारेबाजी के साथ झाँसी में भारतीय स्टेट बैंक के चौराहे से मशाल जुलुस प्रारंभ होकर पारीक्षा तापीय विद्युत परियोजना के मुख्य द्वार के बाहर समाप्त हुआ।

हमीरपुर : 

विधुत कर्मचारियों ने हमीरपुर में भी मशाल जुलूस निकाल कर निजीकरण का विरोध किया।

Electricity department employees

रामपुर :

रामपुर में नाहीद सिनेमा से मशाल जुलूस प्रारम्भ होकर गांधी समाधी में तक गया।

सीतापुर में आक्रोश-

सीतापुर:विघटन व निजीकरण के विरोध में मशाल जुलूस

मशाल जुलूस व विरोध प्रदर्शन कार्यक्रम पूरे प्रदेश में जारी रहा।

भूली-बिसरी ख़बरे