हरिद्वार : फैलते कोरोना संक्रमण से मज़दूरों में आक्रोश, दिया ज्ञापन

संयुक्त संघर्षशील ट्रेड यूनियन मोर्चा हरिद्वार ने 50 लाख का बीमा, निशुल्क जाँच आदि की माँग उठाई

हरिद्वार (उत्तराखंड)। कोविड 19 संक्रमण के तेज फैलाव व हिंदुस्तान यूनिलीवर में 300 से ज्यादा संक्रमण के मामले को देखते हुए संयुक्त संघर्षशील ट्रेड यूनियन मोर्चा, हरिद्वार ने औद्योगिक क्षेत्र सिडकुल के मज़दूरों के हितों के संदर्भ में जिलाधिकारी, हरिद्वार को 7 सूत्रीय ज्ञापन देकर आवाज़ उठाई।

मोर्चा द्वारा दिए गए ज्ञापन में लिखा है कि गत दो-तीन दिनों में 300 से अधिक मज़दूर कोरोना पॉजिटिव मिले हैं, परंतु सिडकुल में सभी कारखानों में सामाजिक दूरी व सैनिटाइजेशन के लिए कोई इंतजाम नहीं है और ना ही कर्मचारियों के स्वास्थ्य की जांच की जा रही है।

हिंदुस्तान युनिलीवर के संक्रमित मज़दूरों के संपर्क में आए अन्य उद्योगों के मज़दूरों का स्वास्थ्य परीक्षण नहीं किया जा रहा है। जिससे महामारी और अधिक तीव्रता से फैलेगी। यह मज़दूरों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ है तथा मज़दूरों का मानसिक उत्पीड़न भी है।

इसे भी पढ़ें

मोर्चा ने ज्ञापन द्वारा माँग की है कि-

  1. सिडकुल में कार्यरत सभी मज़दूरों का 50 लाख रुपए का बीमा करवाया जाए, जिसकी जिम्मेदारी प्रबंधन वर्ग की हो;
  2. सभी औद्योगिक इकाइयों में मज़दूरों की निशुल्क जांच करवाई जाए;
  3. सभी औद्योगिक इकाइयों में कोविड-19 के संबंध में सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों का कड़ाई से पालन करवाया जाए;
  4. सभी औद्योगिक इकाइयों में नियोक्ता द्वारा निशुल्क यातायात का प्रबंध किया जाए, ताकि समाज में महामारी फैलने से रोका जा सके;
  5. कोरोना पॉजिटिव पाए गए सभी मज़दूरों के परिवार की भी निशुल्क जाँच व इलाज का प्रबंध किया जाए;
  6. शिफ्ट इन और आउट टाइम के समय पर प्लांट को सैनिटाइज किया जाए;
  7. मज़दूर बस्तियों को सैनिटाइज व निशुल्क जांच तत्काल शुरू की जाए।

मोर्चा की ओर से ज्ञापन देने वालों में गोविंद सिंह उछोली संयोजक मोर्चा व अध्यक्ष फूड्स श्रमिक यूनियन, महिपाल सिंह मोर्चा प्रतिनिधि व सत्यम ऑटो हरिद्वार, अवधेश कुमार सह संयोजक मोर्चा व महामंत्री भेल मज़दूर ट्रेड यूनियन, पंकज कुमार इंक़लाबी मज़दूर केंद्र के हरिद्वार प्रभारी व मोर्चे के सलाहकार, देवेंद्र सिंह खानायत और हरीश आदि शामिल थे।

भूली-बिसरी ख़बरे