भगवती और करोलिया लाइटिंग में यूनियनें हुईं पंजीकृत

मजदूरों का संघर्ष लाया रंग

पंतनगर (उत्तराखंड)। लंबे संघर्षों के बाद सिडकुल पंतनगर क्षेत्र की दो और यूनियने पंजीकृत हो गई हैं। एक तरफ जहां भगवती इम्पलाइज यूनियन पंतनगर का पंजीकरण संपन्न हुआ, वहीं दूसरी ओर करोलिया लाइटिंग इम्पलाइज यूनियन, पंतनगर का भी पंजीकरण संपन्न हो गया है।

ज्ञात हो कि भगवती प्रोडक्ट्स लिमिटेड (माइक्रोमैक्स) के मज़दूरों ने जब अपनी पहली यूनियन भगवती श्रमिक संगठन बनाई थी और पंजीकरण के लिए आवेदन किया था तो प्रबंधन ने 27 दिसंबर 2018 को 303 श्रमिकों की एकमुश्त गैरकानूनी छँटनी कर दी थी। वहीं यूनियन अध्यक्ष को निलंबित कर दिया था, जबकि शेष 47 मज़दूरों को कंपनी बार-बार गैरकानूनी लेऑफ के द्वारा बाहर करती रही।

मज़दूरों का संघर्ष करीब सवा साल से कंपनी गेट से लेकर उच्च न्यायालय नैनीताल तक लगातार जारी रहा। आज भी मजदूरों का संघर्ष जारी है। प्रबंधन की मिलीभगत से भगवती श्रमिक संगठन में कार्यकारिणी व पूरी पत्रावली का जांच संपन्न हो जाने के बावजूद, अभी तक पंजीकरण की प्रक्रिया नहीं हुई।

भगवती इम्पलाइज यूनियन पंजीकृत

ऐसे में भीतर मौजूद शेष मज़दूरों ने एक और नई पहल ली और भगवती इम्पलाइज यूनियन के नाम से नई यूनियन का गठन किया और उसके पंजीकरण के लिए फाइल लगा दी, जोकि 26 फरवरी 2020 को पंजीकृत हो गई, जिसका पंजीकरण संख्या 410 है। इससे मजदूरों में उत्साह की नई लहर पैदा हो गई।

 भगवती इम्पलाइज यूनियन के अध्यक्ष प्रशांत कुमार, उपाध्यक्ष मुकेश चंद जोशी, महासचिव अफजल हुसैन, कोषाध्यक्ष भुवन चंद जोशी, संयुक्त सचिव सचिन कुमार तथा भूपेंद्र रावत वह निखिल कुमार कार्यकारिणी सदस्य हैं।

करोलिया लाइटिंग में भी यूनियन पंजीकृत

दूसरी ओर कंपनी में प्रबंधन का दबाव झेलते हुए करोलिया के मज़दूरों ने करोलिया लाइटिंग इम्पलाइज यूनियन नाम से अपनी यूनियन गठित की और दिनांक 26 फरवरी 2020 को यह यूनियन भी पंजीकृत हो गई, जिसका पंजीकरण संख्या 409 है। इस यूनियन के अध्यक्ष हरेंद्र हैं।

दोनों यूनियनों के पंजीकृत होने पर मज़दूर सहयोग केंद्र में बधाई दी है।

भूली-बिसरी ख़बरे