मारुति सुजुकी वर्कर्स यूनियन का चुनाव संपन्न

शांतिपूर्ण ढंग से मज़दूरों ने किया नए कार्यकारिणी का गठन, संघर्ष जारी रखने का हुआ ऐलान

मानेसर (गुडगाँव)। मारुति के मानेसर प्लांट में शांतिपूर्ण चुनाव में मारुति सुजुकी वर्कर्स यूनियन की नई कार्यकारिणी गठित हो गई। प्लांट के भीतर हुए चुनाव में अगले दो वर्ष के लिए अजमेर सिंह यादव प्रधान, दौलत राम तेतरवाल महासचिव तथा पवन लठवाल मुख्य संरक्षक चुने गए। साथ ही 11 सदस्ययी कार्यकारिणी में नीरज सैनी, जयबीर सिंह, नवीन कुमार, नवीन कुमार, अमित शर्मा, विकास कुमार, अमरेन्द्र कुमार शर्मा, मनीष कुमार, राकेश कुमार चुने गए। अन्य पदाधिकारियो का चुनाव इन्ही सदस्यों में से होगा।

ज्ञात हो कि काफी संघर्षों के बाद 1 मार्च, 2012 को यूनियन पंजीकृत हुई थी। लेकिन उसी वर्ष 17 जुलाई की एक साजिशपूर्ण घटना के बाद पूरी यूनियन बाड़ी सहित 148 मज़दूर फर्जी मुक़दमे झेलकर जेल रहे और क़रीब 2500 स्थाई व अस्थाई मज़दूर ग़ैरक़ानूनी रूप से बर्ख़ास्त हो गए थे। तबसे संघर्ष जारी है। आज भी पुरानी यूनियन कार्यकारिणी सहित 12 साथी अन्यायपूर्ण जेल की सजा भुगत रहे हैं जिनका संघर्ष जारी है। जबकि बर्ख़ास्त मज़दूर अपनी कार्यबहाली का कानूनी संघर्ष जारी रखे हुए हैं।

यूनियन के नवनिर्वाचित पदाधिकारियो ने कहा कि मज़दूरों की अन्यायपूर्ण सजा और बर्खास्तगी के ख़िलाफ़ यूनियन पूरी ताक़त से संघर्ष में हर प्रकार का सहयोग जारी रखेगी। साथ ही अन्दर कार्य कर रहे मज़दूरों के हक़ में भी पूरी निष्ठां से संघर्ष करेगी। यूनियन मज़दूरों के हर संघर्ष में साथ रही है और रहेगी। मारुति यूनियन मज़दूर विरोधी सभी नीतियो की मुखालफत में समानधर्मा यूनियनों के साथ क़दम से क़दम मिलाकर चलती रहेगी।

यूनियन नेताओं ने शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न कराने के लिए सभी मज़दूरों को धन्यवाद दिया।

मारुति आन्दोलन के इतिहास पर इसे पढ़ें