पश्चिम बंगाल में लुंगी-टोपी पहनकर पथराव कर रहे भाजपा कार्यकर्ता गिरफ्तार

पुलिस के मुताबिक स्थानीय भाजपा कार्यकर्ता है दंगा फैलाने वाला

पश्चिम बंगाल में पुलिस ने लुंगी-टोपी पहनकर एक ट्रेन के इंजन पर पथराव कर रहे भाजपा कार्यकर्ता और उसके पांच साथियों को गिरफ्तार करने का दावा किया है. द टेलिग्राफ के मुताबिक यह घटना मुर्शिदाबाद जिले की है. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि उन्हें स्थानीय लोगों ने पकड़ा. जिले के पुलिस अधीक्षक ने बताया, ‘इन युवकों ने पहले लुंगी और टोपी पहनने का कारण यह बताया कि वे अपने यूट्यूब चैनल के लिए वीडियो शूट कर रहे हैं. लेकिन जब उनसे वीडियो चैनल दिखाने को कहा गया तो वे ऐसा नहीं कर पाए.’

इस भाजपा कार्यकर्ता का नाम अभिषेक सरकार बताया जा रहा है. लोगों का कहना है कि 21 साल के अभिषेक की भाजपा की स्थानीय रैलियों में बढ़-चढ़कर भागीदारी रहती है. इन्हें पकड़ने वाले एक शख्स का कहना था, ‘हमें तब शक हुआ जब हमने रेलवे लाइन के नजदीक इन लड़कों को कपड़े बदलते देखा. हम अभिषेक को पहचानते थे.’ बताया जा रहा है कि इनके साथ एक और शख्स भी था जो भागने में सफल रहा.

भाजपा के स्थानीय सूत्रों ने अभिषेक के पार्टी से जुड़े होने की पुष्टि की है. हालांकि मुर्शिदाबाद में भाजपा के जिला अध्यक्ष गौरीशंकर घोष ने इसे खारिज कर दिया है. उनका कहना था, ‘वह हमारी पार्टी से जुड़ा हुआ नहीं है.’

नए नागरिकता कानून पर पश्चिम बंगाल में हिंसा के बाद गुरुवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दावा किया था कि भाजपा अपने कार्यकर्ताओं के लिए बड़ी तादाद में जालीदार टोपियां खरीद रही है ताकि वे खुद तोड़फोड़ कर इसका ठीकरा दूसरे समुदाय पर फोड़ सकें. इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बयान आया था कि नागरिकता कानून के विरोध में तोड़फोड़ करने वालों को उनके कपड़ों से पहचाना जा सकता है.

%d bloggers like this: