बिजली कंपनियों की लूट के खिलाफ भादरा में अनशन शुरू

नौ दिनों से जारी रहा धरना, प्रशासन लोगों को बरगलाने में जुटा

हनुमानगढ़। बिजली बिलों में हो रहे घोटाले और बिजली कंपनियों की मनमानी लूट के खिलाफ भादरात हसील में जारी धरने के साथ आन्दोलनकारी बिजली उपभोक्ता संघर्ष समिति के बैनर तले सामूहिक भूख हड़ताल शुरू कर दिया है। संघर्ष समिति ने चेतावनी दी कि प्रशासन जनता की ताकत को कम करके आंकेगा, तो जरूरत पड़ने पर कठोर कदम उठाया जाएगा।

पिछले 9 दिनों से सहायक अभियंता कार्यालय, गोगामेड़ी के सामने बिजली उपभोक्ता संघर्ष समिति धरना गुरूवार को भी जारी रहा। भादरा तहसील के दर्जनों गांवों के 300 लोगों ने सामूहिक भूख हड़ताल में हिस्सा लिया। प्रशासन व संघर्ष समिति के बीच हुई वार्ता प्रशासन के अड़ियल रवैये के कारण विफल रही। प्रशासन अड़ा रहा कि यह मुद्दा राज्य स्तर का है और लोगों को बरगलाने की कोशिश करता रहा।


संघर्ष समिति ने यह निर्णय लिया कि 14 सितम्बर से संघर्ष समिति के 2-2 साथी क्रमिक भूख हड़ताल पर बैठेंगे। संघर्ष समिति ने कहा कि हम किसी भी हालत में अपनी मागों से पीछे नही हटेंगें। ग्रामीणों ने यह चेतावनी दी है कि अगर जल्द से जल्द हमारी मांगे नही मानी गयी तो हमें मजबूरन कठोर कदम उठाने पड़ेगें। संघर्ष समिति के सदस्य संदीप जी ने बताया कि हम गांव-गांव जा कर लोगों को संगठित करेंगे। उन्होंने जनता से अपील की है कि वह आंदोलन में बढ़ चढ़ कर भाग ले। उन्होंने कहा कि अगर मांगो को नही माना गया तो क्रमिक भूख हड़ताल, अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल में बदल जायेगी।

भूली-बिसरी ख़बरे

%d bloggers like this: