दस्तावेज़

‘संघर्षरत मेहनतकश’ पत्रिका

जनवरी-मार्च, 2020(संकटों के बीच इस द्वैमासिक पत्रिका का यह अंक त्रैमासिक निकलना पड़ा।)
इस अंक की प्रमुख सामग्री-
अपनी बात :
-बजट : मुनाफे की बलिबेदी पर खड़ा मज़दूर वर्ग
आवरण कथा :
-वर्ष 2019 : मेहनतकश जनता के लिए क़यामत का साल
-हड़ताल सम्पन्न, अब आगे क्या होगा?

ज़़मीनी हक़़ीक़़त :
-दिल्ली का वज़ीरपुर औद्योगिक क्षेत्र

मज़दूरनामा :
-शिवम ऑटोटेक के मज़दूरों की जीत
-जारी है होंडा के ठेका मज़दूरों का संघर्ष
-उत्तराखण्ड : कई कम्पनियों के मज़दूर आन्दोलित

विरासत :
-भारत की पहली महिला शिक्षिका सावित्रीबाई फुले
-नौ सेना के बहादुर सिपाही
विशेष लेख :
-सीएए, एनआरसी, एनपीआर का मक़सद क्या है?

आन्दोलन :
-जनविरोधी सीएए, एनआरसी, एनपीआर के खि़लाफ औरतों का इंक़लाब

विश्व पटल :
-फ्रांस : 200 साल की सबसे बड़ी हड़ताल
-चिली में जनता के शानदार संघर्ष के तीन महीने

साहित्य :
-असग़र वजाहत की लधु कथाएँ
-सरला महेश्वरी की कविता : हाँ

चित्र कथा :
-मालती के अच्छे दिन

पत्रिका के साथ ‘मेहनतकश’ वेबसाइट http://mehnatkash.in/और ‘मेहनतकश’ चैनल https://www.youtube.com/channel/UCHLnta2rDf1JdQfOgpQdLVgको भी देखें, जुड़ें और सब्स्क्राइब करें।’संघर्षरत मेहनतकश’ फेसबुक पेज से भी जुड़ें। 
अपनी प्रतिक्रिया देकर ‘मेहनतकश’ को और बेहतर बनाने में योगदान करें। मेहनतकश वर्ग के संघर्षों को मजबूती दें।  
धन्यवाद,-संपादक 

Mehnatkash-42



* for May day Booklet Click here


* for previous month Magazine Click here


* for previous month Magazine Click here


* for previous month Magazine Click here


* for previous month Magazine Click here


* for previous month Magazine Click here


* for previous month Magazine Click here

भूली-बिसरी ख़बरे

%d bloggers like this: